ADM के दारू-मुर्गा पर दंगा करने वाली SDM शिवानी पर भी कार्रवाई होगी | MP NEWS

भोपाल। गुना एसडीएम शिवानी रैकवार गर्ग ने पहले सरकारी वाट्सएप ग्रुप पर एडीएम दिलीप मंडावी के खिलाफ मैसेज पोस्ट किया, फिर मुख्य सचिव के नाम शिकायत लिखी और उसे भी मीडिया में जारी कर दिया। हंगामा मचा तो शासन ने एडीएम दिलीप मंडावी का भोपाल तबादला कर दिया लेकिन कहानी यहीं खत्म नहीं हुई। अब हंगामा मचाने वाली एसडीएम शिवानी के खिलाफ भी अनुशासनहीनता की कार्रवाई की तैयारी की जा रही है। ग्वालियर कमिश्नर ने इस मामले में एसडीएम को भी दोषी माना है। इस मामले में गौर करने वाली एक बात यह है कि पूरा मामला ADM-SDM के बीच कुछ इस तरह हुआ जैसे पड़ौसियों के बीच झगड़ा हुआ हो। यह मामला ना तो कलेक्टर के सामने पहुंचा और ना ही कमिश्नर के सामने। 

उल्लेखनीय है कि गुना एसडीएम शिवानी गर्ग ने जिले के प्रशासनिक व्‍हाट्सएप ग्रुप 'रेवेन्यु' पर एडीएम दिलीप मंडावी के खिलाफ मैसेज पोस्ट किया था, जिसमें अधीनस्थ अधिकारी-कर्मचारियों को संबोधित करते हुए लिखा था कि 'अगर किसी ने भी एडीएम को दारू, चिकन आदि पहुंचाया तो मेरे द्वारा आपके विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी।" बाद में सभी को बुलाकर उनके मोबाइल से यह मैसेज डिलीट करा दिया था।

गुना में गुरुवार के अखबारों में इस मामले का खुलासा हुआ। ब्रेकफास्ट खत्म होते होते यह मामला स्टेट मीडिया और लंच टाइम तक नेशनल मीडिया की सुर्खियां बन गया। इससे पहले कि सवाल उठते और बात बढ़ती, सामान्य प्रशासन विभाग ने एडीएम दिलीप मंडावी का तबादला भोपाल कर दिया। अब बीएम शर्मा, कमिश्नर ग्वालियर संभाग का कहना है कि एसडीएम ने भी अनुशासनहीनता की है। मैंने कलेक्टर से जांच रिपोर्ट तलब की है। जांच रिपोर्ट आने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी। 

मैं किसी भी जांच के लिए तैयार हूं: एडीएम दिलीप मंडावी

सुबह सुर्खियों में आकर शाम को तबादले का शिकार हुए एडीएम दिलीप मंडावी ने कहा कि निर्वाचन कार्य में लापरवाही के दौरान मैंने एसडीएम शिवानी गर्ग को डांटा था। उसी का बदला लेने के लिए उन्होंने मुझ पर दारू, चिकन मांगने जैसा आरोप लगाने वाला मैसेज ग्रुप में पोस्ट कर दिया। मैंने कभी किसी से इस तरह की मांग नहीं की। यदि एक भी अधीनस्थ अधिकारी या कर्मचारी यह साबित कर दें कि मैंने कभी ऐसी मांग की है, तो मैं किसी भी जांच और कार्रवाई के लिए तैयार हूं।