Loading...

मप्र में स्किल डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी खुलेगी, इन 9 शहरों में खुलेंगे एक्सीलेंस कॉलेज | MP NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश प्रदेश में नॉलेज कमीशन और कौशल विकास विश्वविद्यालय का गठन किया जाएगा। प्रदेश के 9 शहरों में एक्सीलेंस कॉलेज खोले जाएंगे। मप्र ऐसा करने वाला देश का पहला राज्य होगा। ये जानकारी उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने भोपाल में शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी। 

मप्र के कॉलेजों में एडमिशन कब से शुरू होंगे

उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने बताया कि 10 जून से स्नातक और 15 जून से स्नातकोत्तर में प्रवेश प्रक्रिया शुरू होगी। इसके पोर्टल में 1250 कॉलेजों को रखा गया है। मंत्री जीतू पटवारी ने इस शिक्षा सत्र से प्रदेश के विद्यार्थियों को सरल और सस्ती शिक्षा मिलेगी। एमपी ऑनलाइन के किसी भी कियोस्क की फीस 50 रुपये निर्धारित कर दिया गया है, हर तरह का फार्म महज 50 रुपये में भरा जा सकेगा।

मप्र के किन शहरों में खुलेंगे एक्सीलेंस कॉलेज

मंत्री जीतू पटवारी ने बताया कि गरीबी रेखा में आने वाले हर विद्यार्थी को 2000 रुपये तक की किताबें मुफ्त दी जाएंगी। अब तक सिर्फ एससी-एसटी विद्यार्थियों को ही नि:शुल्क किताबें दी जाती थी। अब सामान्य और ओबीसी के छात्रों को भी ये सुविधा उच्च शिक्षा विभाग देगा। देश के पहले कौशल विकास विश्वविद्यालय का गठन किया जाएगा। मंत्री पटवारी ने बताया कि प्रदेश में नॉलेज कमीशन का गठन होगा। इंदौर, उज्जैन, छिंदवाड़ा, जबलपुर, सागर, ग्वालियर, झाबुआ, खरगोन और रीवा में एक्सीलेंस कॉलेज खोले जाएंगे। ये भोपाल के एक्सीलेंस कॉलेज की तर्ज पर होंगे।  

एमपी ऑनलाइन कियोस्क सेंटर 50 रुपए से ज्यादा लेने पर कार्रवाई होगी

मंत्री पटवारी ने बताया कि एमपी ऑनलाइन के कियोस्क सेंटर में 50 से ज्यादा रुपए लिया गया तो उसे क्रिमिनल कैटगरी में रखा जाएगा। छात्र इसकी शिकायत भी कर सकेंगे। उच्च शिक्षा विभाग हेल्पलाइन नंबर जारी करेगा, जिसमें अभिभावक विद्यार्थी कर सकेंगे। प्रवेश परीक्षा परिणाम समय पर हों, इसे सुनिश्चित किया जाएगा, कॉलेज में हुए एडमिशन का डेटा ऑनलाइन दर्ज किया जाएगा। पटवारी ने बताया कॉलेजों में पारदर्शी प्रवेश प्रक्रिया के लिए नई व्यवस्था बनाई गई है। 

कोचिंग के लिए सुविधा देगी सरकार

मंत्री पटवारी ने बताया कि सरकार यूपीएससी और एमपीपीएससी की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों को बाहर कोचिंग के लिए भेजेगी। एलिजिबल स्टूडेंट्स को कोचिंग के लिए सरकार सुविधा देगी। छात्रों से सीधे संवाद के लिए रोज़गार मेले आयोजित होंगे। शाम के समय खाली कॉलेज भवनों को सस्ते दर पर निजी कोचिंग संस्थानों को कोचिंग चलाने के लिए दी जाएगी। शासकीय कॉलेज में देवी अहिल्या बाई होल्कर निःशुल्क शिक्षा योजना के तहत कन्याओं को निःशुल्क शिक्षा प्रदान की जाएगी।
उच्च शिक्षा विभाग - हेल्पलाइन नंबर 
- 07552554423 और 07552674923।