Loading...

आसमान से आग बरसी, पूरा प्रदेश धधक उठा, पढ़िए अगले 48 घंटे क्या होगा | MP WEATHERE REPORT and FORECAST

भोपाल। भीषण गर्मी और तीव्र लू की चपेट में आया प्रदेश नौतपा के आखिरी दिन रविवार को भी भट्टी की तरह तपता रहा। खजुराहो और नौगांव में पारा 47.5 डिग्री पर पहुंच गया। नौतपा के दौरान ग्वालियर में गर्मी का 72 साल का रिकॉर्ड टूट गया। मौसम विभाग के अनुसार अगले 48 घंटे मौसम में कोई बदलाव होने की संभावना नहीं हैं। इसके बाद तापमान में गिरावट आ सकती है। नौतपा के आखिरी दिन मालवा अंचल के कुछ इलाकों बारिश हुई है। राजधानी में आज दोपहर साढ़े बारह बजे 42 डिग्री को पार कर गया। लेकिन दोपहर बाद इसकी रफ्तार ज्यादा तेज नहीं हुई और ये अधिकतम 43.8 पर जाकर थमा। 

नौतपा के आखिरी दिन पूरे राज्य में भीषण गर्मी का यही आलम है। नौतपा प्रारंभ होने के पहले दूसरे दिन तो कुछ हद तक पारा राहत दे रहा था किंतु तीसरे दिन से सूरज की किरणों में जो कोहराम मचाना शुरू किया तो वह आखिरी दिन तक जारी रहा। दोपहर को आग की तरह चुभती लपटें इस कदर लोगों को परेशान करती हैं कि सड़कों पर तो जैसे सन्नाटा छा जाता है। बाजारों में भी लोगों की संख्या कम हो जाती है इस जानलेवा गर्मी में बाहर निकलने का साहस कोई भी नहीं कर पाया। पानी के संकट के कारण कूलर चलाने वाले लोगों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। 

उज्जैन संभाग में हल्की बारिश : 
मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार बीते 24 घंटों में प्रदेश के उज्जैन संभाग के जिलों में कहीं-कहां हल्की बारिश हुई और शेष संभागों में मौसम शुष्क रहा। दमोह, ग्वालियर, खजुराहो एवं नौगांव में तीव्र लू का असर रहा। सतना, उमरिया रीवा, टीकमगढ़ शाजापुर खरगौन, गना व शिवपुरी मे लू चली। 

लू की चेतावनी: 
अगले 24 घंटों में सिंगरौली, रीवा, सीधी, सिवनी, खरगोन, बैतूल, बुरहानपुर, अनूपपुर, डिंचोरी, बालाघाट, देवास, सतना एवं छिंदवाड़ा जिलों में कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ धूल भरी आंधी चल सकती है। प्रदेश के शेष जिलों में मौसम शुष्क रहेगा। मौसम विभाग नें अगले 24 घंटो में मंडला, रीवा, जबलपुर, उज्जैन, सागर, ग्वालियर, चंबल संभाग के सभी जिलों और उमरिया, रायसेन, राजगढ़, खरगौन और शाजापुर जिलों में तीव्र लू का अलर्ट जारी किया है। इसके अलवा प्रदेश के शेष जिलों में भी लू का असर रहेगा।  

अगले 24 घंटों में कैसा रहेगा भोपाल का मौसम
मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों के कौरान राजधानी भोपाल में गर्मी से राहत मिलने की संभावना नहीं है। अधिकतम पारा 44 और न्यूतम पारा 30 डिग्री सेल्सीयस रहने का अनुमान है। इस दौरान करीब 19 से 20 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है और राजधानी भी लू की चपेट में रहेगी। 

72 साल बाद मई में ग्वालियर सबसे गर्म
नौतपा के छठे दिन यानि 30 मई को खजुराहो में तापमान 47.5 तथा ग्वालियर और नौगांव 47.2 डिग्री पर पहुंच गया। ग्वालियर में ऐसा 72 साल बाद हुआ है जब ग्वालियर मई में सबसे गर्म रहा। इसके साथ ही प्रदेश के 10 शहरों में तापमान 45 डिग्री के पार रिकॉर्ड हुआ। 30 मई को ग्वालियर का अधिकतम तापमान 47.2 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। इससे पहले 30 मई 1947 को ग्वालियर का अधिकतम तापमान 48.3 डिग्री रिकॉर्ड हुआ था।

कैसा रहा नौतपा: 
इस बार पूरे नौ दिन ग्वालियर-चंबल संभाग सुबह से लेकर शाम तक लू की चपेट में रहा। इतना ही नहीं अंचल में ग्वालियर के बाद दतिया, मुरैना, श्योपुर, भिंड सबसे गर्म रहे। दतिया का अधिकतम तापमान 46.6 डिग्री, मुरैना का 46.5, श्योपुर का 46 डिग्री व भिंड का 45 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 

मानसून कब आएगा
मध्य प्रदेश में मानसून आने की तारीख 13 से 15 मई मानी जाती है। लेकिन मानसून इस बार केरल नहीं पहुंचा है। इसके यहां 6 मई को पहुंचने की संभावना जताई जा रही है। केरल में मानसून पहुंचने के बाद इसके मध्यप्रदेश  पहुंचने में करीब 15 दिन का समय लगता है। मौसम विभाग का कहना है कि इस बार मध्य प्रदेश में 20 जून के आसपास मानसून आने की संभावना है।