Loading...

महिला रेल यात्री यदि खतरे में हैं तो ‘Talk Back’ बटन दबाएं | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। भारतीय रेल (Indian Rail) महिला यात्रियों (Lady passengers) की सुरक्षा को लेकर चाक-चौबंद व्यवस्था कर रहा है। ‘Talk Back’ बटन का प्रयोग किया जा रहा है। पश्चिम रेलवे की ट्रेनों में ‘Talk Back’ बटन उपलब्ध करा दिया गया है। जल्द ही देश की सभी ट्रेनों में यह दिखाई देगा। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रेलवे फिलहाल इसे पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर चला रहा है। अगर ये पूरी तरह से सफल रहा तो अन्य ट्रेनों में भी यह सुविधा उपलब्ध होगी। रेलवे ने 2016 में पहली बार महिला डिब्बों में ‘Talk Back’ बटन की सुविधा पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर उपलब्ध कराई थी। इसके बाद सितम्बर 2018 के बाद कई ट्रेनों में यह सुविधा उपलब्ध करा दी गई।

क्या है Talk Back’ बटन

पश्चिम रेलवे ने लोकल ट्रनों के फस्ट क्लास महिला डिब्बों में ‘Talk Back’ बटन की सुविधा उपलब्ध कराई है। इसके तहत महिला यात्री किसी मुश्किल स्थिति में ट्रेन के गार्ड और मोटरमैन से ‘Talk Back’ बटन के जरिए तुरंत संपर्क किया जा सकता है। अब तक पश्चिम रेलवे की ओर से 70 फीसदी महिला डिब्बों में यह सुविधा दी जा चुकी है। 

(1) इस सर्विस का गलत इस्तेमाल न हो इसको लेकर रेलवे ने रिकॉर्डिंग की व्यवस्था भी की है। गार्ड और मोटरमैन से जो भी बात होगी वो रिकॉर्ड की जाएगा। वहीं किसी दुर्घटना की स्थिति में इस बातचीत को सबूत के तौर पर भी प्रयोग किया जा सकेगा।

(2) एक तरफ जहां महिला यात्री व मोटरमैन या गार्ड से होने वाली बातचीत को रिकॉर्ड किया जा रहा है वहीं सीसीटीवी कैमरों की मदद से इस बटन पर नजर रखी जाती है।