Loading...

KAMAL NATH ने पार्टी से ऊपर अपने बेटे को रखा: राहुल गांधी | MP NEWS

भोपाल। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ से नाराज हैं। वो नकुल नाथ को टिकट नहीं देना चाहते थे परंतु कमलनाथ ने जिद करके टिकट हासिल किया। राहुल गांधी का कहना है कि कमलनाथ और राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने जिद करके अपने बेटों के लिए टिकट लिया। उन्होंने अपने बेटों को पार्टी के हितों से ऊपर रखा है। यह बात राहुल गांधी ने CWC MEETING की मीटिंग में कही। 

राहुल गांधी ने यह बयान केंद्रीय कार्यसमिति की बैठक में दिया। राहुल ने ये भी कहा कि पार्टी के नेता उनके उठाए मुद्दों को आगे ले जाने में नाकामयाब रहे। राहुल ने ये बातें तब कहीं जब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कांग्रेस को मज़बूत स्थानीय नेताओं की ज़रूरत है। राहुल गांधी ने कहा कि इस लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने राजस्थान और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में भी बहुत खराब प्रदर्शन किया है जबकि यहां पार्टी की ही सरकारें हैं। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ और अशोक गहलोत ने उनकी इच्छा के ख़िलाफ़ अपने बेटों को टिकट दिलाने की ज़िद की।

बता दें कि मध्यप्रदेश में भी कमलनाथ के खिलाफ आवाज बुलंद हो गईं हैं। कांग्रेस के कई नेताओं एवं मंत्रियों ने कमलनाथ को प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाने की मांग की है। समीक्षकों ने मध्यप्रदेश में कांग्रेस की शर्मनाक हार का एक कारण कमलनाथ सरकार का प्रदर्शन भी बताया। किसान, कर्मचारी और बिजली कटौती के कारण आम आदमी कमलनाथ सरकार से नाराज थे।

राहुलगांधी ने ऐसा कोई बयान नहीं दिया है: कमलनाथ

मप्र में कमलनाथ केबिनेट की बैठक के बाद कमलनाथ⁩ ने कहा ⁦राहुल गांधी⁩ ने परिवारवाद पर कोई बयान नहीं दिया। पार्टी का अधिकृत बयान आयेगा। मैंने कोई इस्तीफा नहीं दिया। बता दें कि राहुल गांधी के बयान की खबर दिल्ली में TIMES OF INDIA अखबार में छपी है।