Loading...

चोर बेटे को छुड़ाने आयी मां को भी गांव वालों ने चप्पल से पीटा | INDORE NEWS

इंदौर। देपालपुर (Depalpur) के छोटा बेटमा (CHOTA BETMA) में एक युवक और उसकी मां को पेड़ से बांधकर पीटने का मामला सामने आया है। चोरी के इरादे से तीन दोस्तों के साथ घर में घुसे युवक को ग्रामीणों से पकड़कर बांध दिया। युवक को मौका मिलते ही उसने अपनी मां को कॉल कर दिया। उसे छुड़ाने आई उसकी मां को भी ग्रामीणों ने पकड़कर पेड़ से बांध दिया और दोनों की चप्पल से धुनाई कर दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची दोनों को पकड़कर थाने ले गई।

ग्रामीणों के अनुसार छोटा बेटमा में रात करीब दो बजे चार बदमाश को सरपंच राधेश्याम पटेल के घर में दाखिल होते देखा गया। इसकी सूचना तत्काल ग्रामीणों को दी गई। सूचना के बाद सभी ने चोरों को पकड़ने के लिए घेरा बनाया, लेकिन इसमें से मौका पाकर तीन चोर फरार हो गए, जबकि एक चोर ग्रामीणों के हत्थे चढ़ गया। ग्रमीण उसे पीटते हुए एक पेड़ के पास ले गए और वहां बांध दिया। ग्रामीणों द्वारा घेरने पर उसने अपनी मां को फोन कर दिया। बेटे को छुड़ाने कुछ देर में मां मौके पर पहुंची, लेकिन गुस्साए ग्रामीणों ने उसकी एक नहीं सुनी और उसे भी पेड़ से बांध दिया। उसके शोर मचाने पर ग्रामीणों से दोनों की पिटाई शुरू कर दी। देखते ही देखते महिलाएं भी चप्पल उतारकर मैदान में उतर गईं और दोनों पर जमकर चप्पल बरसाए।

ग्रामीणों ने बताया कि चोरी के आरोप में जिसे पकड़ा गया और उसके अन्य तीन दोस्त मौका पाकर फरार हो गए। फरार आरोपियों ने सरपंच राधेश्याम, जीवन पटेल, रसीद खान और लाखन (Sarpanch Radheshyam , Jeevan Patel, Rasid Khan and Lakhan) के यहां पर चोरी की वारदात को अंजाम दिया। चोर यहां से ढाई लाख रुपए से ज्यादा का सामना ले गए। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों आरोपियों को छुड़वाया और अपने साथ थाने ले गए। ग्रामीणों की पिटाई के बाद आरोपी को को गंभीर चोट आई है, जिसे इंदौर रैफर कर दिया गया।

देपालपुर के छोटा बेटमा में एक युवक और उसकी मां को पेड़ से बांधकर पीटने का मामला सामने आया है। चोरी के इरादे से तीन दोस्तों के साथ घर में घुसे युवक को ग्रामीणों से पकड़कर बांध दिया। युवक को मौका मिलते ही उसने अपनी मां को कॉल कर दिया। उसे छुड़ाने आई उसकी मां को भी ग्रामीणों ने पकड़कर पेड़ से बांध दिया और दोनों की चप्पल से धुनाई कर दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची दोनों को पकड़कर थाने ले गई।