हेमंत करकरे एक शहीद लेकिन शैतान भी था: इंद्रेश कुमार RSS | NATIONAL NEWS

भोपाल। आरएसएस के मुस्लिम नेता इंद्रेश कुमार ने साध्वी प्रज्ञा ठाकुर हेमंत करकरे मामले में बयान जारी किया है। उन्होंने हेमंत करकरे को शहीद तो माना लेकिन यह भी जोड़ा कि उस वर्दी के अंदर एक शैतान भी था। उन्होंने शहीद आईपीएस अफसर हेमंत करकरे को भारतीयता पर, लोकतंत्र पर व मानवीयता पर कलंक बताया है। 

फेसबुक में की गई विवादित पोस्ट में उन्होंने लिखा है कि यूनिफॉर्म में आईपीएस हेमंत करकरे आतंकी गोली से शहीद हुआ। उसके लिए उनको सलाम, लेकिन उसी यूनिफॉर्म में उसने एक साध्वी प्रज्ञा पर अत्याचार किये और करवाये। इससे यह भी सिद्ध होता है वो यूनिफॉर्म में एक शैतान भी था। हेमंत करकरे से ये यह काम कांग्रेस के नेताओं ने करवाए। हेमंत करकरे वर्दी और उससे जुड़ी संस्थाओं को शर्मसार किया है। वह भारतीयता पर, लोकतंत्र पर व मानवीयता पर कलंक था, इसीलिए शहीदों के चित्र घर-घर में मिलते है, लेकिन करकरे का चित्र किसी नेता, नागरिक, पत्रकार के घर पर नहीं है, क्योंकि वह वर्दी में शैतान था।' 

इंद्रेश कुमार ने लिखा है कि साध्वी प्रज्ञा ने उसकी शहादत को सलाम करके क्षमा मांगी, यह प्रज्ञा ठाकुर का बड़प्पन है, लेकिन किसी मीडिया पार्टी नेता या और किसी की ओर से साध्वी से क्षमा नही मांगी गई। क्या कोई इसका जवाब देगा ? कुल मिलाकर भाजपा जितना इस मामले को दबाना चाहती है, आरएसएस उतनी ही हवा दे रही है।