Loading...

YUVA SHASTRA APP DOWNLOAD कर, कलेक्टर-कमिश्नर से पूछें करियर से जुड़े सवाल

इंदौर। शहर के युवाओं को अपना करियर बनाने के लिए अब किसी करियर काउंसलर के पास जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। अपनी योग्यता और शिक्षा के हिसाब से वे कौन-सा करियर चुन सकते हैं इस मामले में अब युवा शास्त्र उनकी मदद करेगा। जिला प्रशासन की पहल पर यह मोबाइल एप बनाया गया है।

इस मोबाइल एप की लांचिंग 9 मार्च को देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के ऑडिटोरियम में की गई। इसका शुभारंभ स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट और खेल व युवा कल्याण मंत्री जीतू पटवारी ने किया। यह मोबाइल एप कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव की पहल पर बनाया गया है। जिला पंचायत सीईओ नेहा मीणा ने बताया है कि इस मोबाइल एप के माध्यम से विद्यार्थियों और युवाओं को उच्च शिक्षा और करियर के बारे में बेहतर मार्गदर्शन मिल सकेगा। सिविल सेवा परीक्षा, पत्रकारिता, बैंकिंग और अन्य क्षेत्रों में इस एप के जरिए मेंटर उपलब्ध रहेंगे, जिनसे विद्यार्थी सतत संपर्क कर मार्गदर्शन प्राप्त कर सकेंगे। इस्तेमाल में बहुत ही आसान युवा शास्त्र एप इंदौर जिला प्रशासन द्वारा अभी एंड्राइड प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कराया गया है। एप के उपयोग और युवाओं की प्रतिक्रिया देखते हुए जल्द ही इसे आईफोन के लिए भी उपलब्ध कराया जाएगा। हर विद्यार्थी और युवा अलग-अलग क्षेत्र में महारत रखने वाले जानकारों से सवाल पूछकर मार्गदर्शन ले सकते हैं।

शुरुआती दौर में इन विशेषज्ञों का मिलेगा मार्गदर्शन
शुरुआती दौर में ही संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी, कलेक्टर लोकेश जाटव, नगर निगम कमिश्नर आशीष सिंह, जिला पंचायत सीईओ नेहा मीणा, आईआईएम इंदौर के डायरेक्टर हिमांशु राय, डॉ. प्रदीप चांदे, इंफोक्रेट्स और सिटीजन कॉप के राकेश जैन, इम्पेटस के वाइस प्रेसीडेंट संजीव अग्रवाल, ख्यात क्रिकेटर अमय खुरासिया सहित अन्य मेंटर्स का मार्गदर्शन इसमें उपलब्ध रहेगा।लीगल केटेगरी के लिए हाई कोर्ट के न्यायाधीश और कुछ ख्यात वकीलों के साथ ही मशहूर गीतकार और पटकथा लेखक जावेद अख्तर को भी मेंटर पैनल में जोड़ने की कोशिश की जा रही है। युवाओं की जिज्ञासा, रुचि और ज्ञान के हिसाब से करियर बनाने में ऐसे विशिष्ट अनुभवी विशेषज्ञों का संपर्क निस्संदेह उपयोगी साबित होगा।
युवा शास्त्र मोबाइल एप DOWNLOAD  करने के लिए यहां क्लिक करें