Loading...

पति ने MOBILE चेक किया तो थानेदार पत्नी ने गोली मार दी | cg news

छत्तीसगढ़ के भाटापारा में पदस्थ महिला थानेदार ने अवैध संबंध के शक में अपने पति को ही गोली मार दी। इससे पति गंभीर रूप से घायल हो गया और उसे इलाज के लिए रायपुर के आंबेडकर अस्पताल में भर्ती किया गया है। बताया जा रहा है कि महिला थानेदार सुनीता मिंज और उसके पति दीपक श्रीवास्तव का प्रेम विवाह हुआ था। दोनों के बीच कई दिनों से विवाद चल रहा था लेकिन रिश्ते में तनाव तब और बढ़ गया जब दीपक ने सुनीता का फोन चेक किया। यह देख थानेदार सुनीता आपा खो बैठीं और थाने के सामने ही दीपक को अपनी सर्विस पिस्टल से तीन गोली मार दी।

मौके पर मौजूद लोगों ने दीपक को तत्काल अस्पताल पहुंचाया जहां उसका इलाज चल रहा है। पुलिस ने सुनीता को गिरफ्तार कर सिमगा कोर्ट में पेश किया है। जहां से उसे रायपुर सेंट्रल जेल भेज दिया गया। आरपीएफ ने भी सुनीता को सस्पेंड भी कर दिया है। इस बारे में शहर टीआई केएल यादव ने बताया कि घायल पति दीपक श्रीवास्तव का बयान दर्ज कर लिया गया है। उसने बताया कि सुनीता से उसका प्रेम प्रसंग था।

सुनीता से दीपक की यह दूसरी शादी है। दोनों पहले दुर्ग में पदस्थ थे। यहीं दोनों के बीच प्रेम प्रसंग हुआ। दोनों 2013 में लिव इन रिलेशनशिप में थे। उस वक्त भी दोनों में विवाद हुआ था। इसकी रिपोर्ट जीआरपी दुर्ग में दर्ज की गई थी। टीआई ने बताया कि दीपक को यह शक था कि पत्नी सुनीता के किसी अन्य से संबंध है। इसलिए वह हमेशा सुनीता का मोबाइल चेक करता रहता था। इसी बात को लेकर भी दोनों में विवाद हुआ और सुनीता ने उसे गोली मार दी। मालूम हो कि दीपक श्रीवास्तव रेलवे में इलेक्ट्रॉनिक विभाग में कार्यरत है, और उनकी पत्नी सुनीता रेलवे पुलिस आरपीएफ भाटापारा में थानेदार हैं।