LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




IFMI SOFTWARE में नंबर ही दर्ज नहीं हो रहे, 1 लाख कर्मचारी परेशान

27 March 2019

भोपाल। आयुक्‍त कोष एवं लेखा ने समस्‍त कोषालय अधिकारियों को निर्देश जारी किये है कि प्रदेश के कर्मचारियों का मार्च माह का वेतन जिसका भुगतान अप्रेल में किया जाना है का आहरण तब ही किया जायें जब कर्मचारियों का मोबाइल नम्‍बर आई एफ एम आई एस के कर्मचारी विवरण में दर्ज हो जायें। आयुक्‍त कोष एवं लेखा के इस फरमान से प्रदेश के हजारों कर्मचारियों का वेतन अटक जायेगा क्‍योंकि अनेक विभागों के आहरण एवं संवितरण अधिकारियों ने अपने कर्मचारियों के मोबाईल नम्‍बर एवं इमेल कर्मचा‍री विवरण में दर्ज नही किये है। मध्‍यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के महामंत्री लक्ष्‍मीनारायण शर्मा ने इस तुगलकी फरमान का विरोध कर कर्मचारियों के वेतन न रोके जाने की मांग की है।

मध्‍यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के महामंत्री लक्ष्‍मीनारायण शर्मा ने बताया कि लगभग 40 प्रतिशत कर्मचारियों के मोबाइल नम्‍बर एवं इ मेल की प्रविष्‍टी आई एफ एम आई एस के कर्मचारी विवरण में दर्ज नही है इस कारण लगभग एक लाख से ज्‍यादा कर्मचारी अप्रेल माह में वेतन से वंचित रह जायेंगे और उन्हें आर्थिक संकट का सामना करना पडेगा। श्री शर्मा ने बताया कि आई एफ एम आई एस के साफ्टवेयर में अनेक खामिया है जिस कारण से कर्मचारियों के मोबाइल नम्‍बर एवं इ मेल की प्रविष्‍टी नही हो पा रही है।

मध्‍यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के महामंत्री लक्ष्‍मीनारायण शर्मा ने बताया कि आयुक्‍त कोष एवं लेखा ने कर्मचारियों को सीधे ही मोबाइल नम्‍बर एवं इ मेल की प्रविष्‍टी करने के निर्देश भी दिये है पर साफ्टवेयर की खामियों के चलते ऐसा करना सम्‍भव नही है।

मध्‍यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के महामंत्री लक्ष्‍मीनारायण शर्मा ने आयुक्‍त कोष लेखा को ज्ञापन प्रेषित कर अनुरोध किया है कि कर्मचारियों के वेतन का न रोका जायें तथा सभी आहरण एवं संवितरण अधिकारियों को निर्देशित किया जायें कि वे मोबाइल नम्‍बर एवं इ मेल की प्रविष्‍टी अभियान चला कर करें।



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->