Loading...

LEO SATELLITE क्या है, क्या वो पाकिस्तान की थी, यहां पढ़िए | KNOWLEDGE

पीएम नरेंद्र मोदी (PM NARENDRA MODI) ने देश के नाम संदेश में बताया कि भारत ने अंतरिक्ष मेें एक सर्जिकल स्ट्राइक (SURGICAL STRIKE IN SPACE) किया है। एलईओ सैटेलाइट (LEO SATELLITE) को मार गिराया गया है। उन्होंने बताया कि यह एक बहुत बड़ी उपलब्धि है और इसके साथ ही भारत देश, अमेरिका, चीन व रूस के बाद दुनिया की चौथी महाशक्ति यानी सुपर पॉवर ( NOW INDIA IS 4th SUPER POWER OF THE WORLD) बन गया है। आइए जानते हैं कि एलईओ सैटेलाइट क्या होता है और जिसे मार गिराया गया, क्या वो पाकिस्तान या चीन का उपग्रह था। 

एलईओ क्या है, सैटेलाइट कितनी दूरी पर स्थित था | WHAT IS LOE 

एलईओ का फुल फॉर्म है लो अर्थ ऑर्बिट यानी पृथ्वी की निचली कक्षा। इस कक्षा में स्थापित किए गए उपग्रह को एलईओ सैटेलाइट कहा गया। लो अर्थ ऑर्बिट यानी पृथ्वी की निचली कक्षा पृथ्वी के सबसे नजदीक ऑर्बिट (कक्षा) है। यह पृथ्वी की सतह से 160 किलोमीटर (99 मील) और 2,000 किलोमीटर (1,200 मील) के बीच ऊंचाई पर स्थित है। जिस उपग्रह को मार गिराया गया वो पृथ्वी की सतह यानी जहां पृथ्वी समाप्त होती है और अंतरिक्ष शुरू होता है, से 300 किलोमीटर की दूरी पर स्थित था। लो अर्थ ऑर्बिट के बाद मिडियन अर्थ ऑर्बिट, Geosynchronous ऑर्बिट और उसके बाद हाई अर्थ ऑर्बिट है. हाई अर्थ ऑर्बिट पृथ्वी की सतह से 35,786 किलोमीटर पर स्थित है।

एलईओ सैटेलाइट को कैसे मारा गया, क्या यह पाकिस्तान या चीन का सैटेलाइट था | How to kill LEO Satellite Was it Pakistan or China's satellite

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम संदेश देते हुए बताया कि भारत ने पृथ्वी की निचली कक्षा में एंटी सैटेलाइट मिसाइल से एक सैटेलाइट को मार गिराया है। यह सैटेलाइट भारत में ही विकसित किया गया है। इस तरह भारत ने अंतरिक्ष में अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया।