Loading...

GPF के लिए ADPO पति ने स्टेनोग्राफर पत्नी की टांग तोड़ डाली: FIR | BHOPAL NEWS

भोपाल। फार्म हाउस पर काम कराने के लिए जीपीएफ से रुपए निकालने के लिए मना करने पर पति ने पत्नी के साथ डंडे से बेरहमी से मारपीट कर दी। आरोपित पति रायसेन जिला न्यायालय में उपसंचालक अभियोजन (एडीपीओ) है। पीडित पत्नी स्टेनोग्राफर के पद पर है। रविवार सुबह हुई घटना में अवधपुरी पुलिस ने एडीपीओ के खिलाफ मारपीट का केस दर्ज कर लिया है।

अवधपुरी पुलिस के मुताबिक डी-19,वर्धमान ग्रीन वेली एक्सटेंशन कॉलोनी निवासी श्रीमती सुनंदा कुमरे (46) सतपुड़ा भवन स्थित आयुक्त आदिवासी विकास कार्यालय में स्टेनोग्राफर ग्रेड-2 के पद पर पदस्थ हैं। उनके पति रामेश्वर कुमरे रायसेन जिला न्यायालय में उपसंचालक अभियोजन के पद पर पदस्थ हैं। श्रीमती सुनंदा ने रविवार सुबह थाने पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई। उसमें बताया गया कि उनकी शादी के 19 साल हो चुके हैं। लेकिन पति शादी के बाद से ही उन्हें शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रहे हैं। उनसे दहेज की मांग करते हैं और तलाक देने के लिए दबाव बनाते हैं। उनके दो बच्चे हैं जो दसवीं और बारहवीं में पढ़ते हैं।

श्रीमती कुमरे ने पुलिस को बताया कि सुबह करीब 9 बजे पति ने कहा कि उन्हें रायसेन स्थित फार्म हाउस में काम कराने के लिए रुपयों की जरूरत है। सुनंदा ने कहा कि उसके पास रुपए नहीं हैं,तो पति ने कहा कि जीपीएफ से रुपए निकालकर दो। मना करने पर पति ने पहले लात-घूंसों से इसके बाद डंडे से मारपीट करना शुरु कर दी। उसके बच्चों ने किसी तरह उसे बचाया। इस दौरान पति ने कहा कि यदि मुझे दूसरी शादी करना है,इसलिए तलाक चाहिए। साथ ही तलाक नहीं देने पर जान से मार देने की धमकी दी। घटना की सूचना सुनंदा ने फोन पर अपने भाई धनश्याम सिरसाम और सुरेश सिरसाम को दी। दोनों भाई मौके पर पहुंचे और गंभीर रूप से घायल बहन को लेकर पहले अवधपुरी थाने पहुंचे। इसके बाद बहन को उपचार के लिए जेपी अस्पताल लाए। शरीर पर आई चोटों और एक पैर में फ्रेक्चर हो जाने के कारण श्रीमती सुनंदा को अस्पताल में भर्ती कर लिया गया है।