Loading...

रचना शराब पीकर लड़कियों को मारती थी, उसका पति यौन शोषण करता था: कलेक्टर | MP NEWS

रतलाम। जावरा में कुंदन वेलफेयर आर्गेनाइजेशन (Kundan Welfare Organization) द्वारा प्रतापनगर में संचालित कुंदन कुटीर बालिका गृह (Kundan Kutir Balika Grih Jaora) में बालिकाओं के साथ ज्यादती और मारपीट की जाती थी। यह बयान 24 जनवरी की सुबह बाथरूम की खिड़की तोड़कर भागी बालिकाओं ने मजिस्ट्रियल जांच में दिया है। रिपोर्ट मिलने के बाद बुधवार को पुलिस ने बालिका गृह की महिला संस्थापक, पूर्व अध्यक्ष और वर्तमान बाल कल्याण समिति अध्यक्ष डॉ. रचना भारतीय (Dr. Rachna Bhartiya), उनके पति ओमप्रकाश भारतीय (Om Prakash Bhartiya), वर्तमान अध्यक्ष संजय जैन (Sanjay Jain), सचिव दिलीप बरैया (Dilip Baraiya) को गिरफ्तार कर लिया है।

कलेक्टर रुचिका चौहान के अनुसार जांच में सामने आया कि बालिकागृह की पूर्व अध्यक्ष डॉ. भारतीय शराब पीकर बालिकाओं से अभद्र व्यवहार और मारपीट करती थीं। उनके पति ओमप्रकाश भारतीय बालिकाओं का यौन शोषण करते थे। बालिकाओं का मेडिकल कराया गया है। एक लड़की पहले से गर्भवती है। वह छत्तीसगढ़ के लड़के के साथ भागी थी, जो उसे छोड़ गया।

बालिका गृह को सील कर रिकॉर्ड जब्त कर लिया है। एक साल पहले बाल कल्याण समिति अध्यक्ष बनने के बाद डॉ. भारतीय ने बालिका गृह के अध्यक्ष का पद छोड़ दिया था लेकिन बालिकाओं ने बताया कि बालिका गृह की सारी व्यवस्थाएं उन्हीं के कब्जे में थी। सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास एवं पूर्व जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी रवींद्र मिश्रा को निलंबित करने के लिए संभागायुक्त को प्रस्ताव भेज दिया है। डेढ़ माह पहले तक बालिका गृह का दायित्व इन्हीं के पास था लेकिन ये लापरवाही करते रहे। 

संस्था अध्यक्ष, सचिव सहित चारों आरोपी गिरफ्तार
मुख्य आरोपी वर्तमान में जिला बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष डॉ. रचना भारतीय ही कुंदन वेल्फेयर आर्गेनाइजेशन व इसके मार्फत संचालित कुंदन कुटीर बालिकागृह की संस्थापिका हैं। यहां से जो बालिकाएं भागीं उनकी जानकारी भी छिपाने का आरोप है। वे मामले को दबा देती थी।

कुंदन वेल्फेयर आर्गेनाइजेशन के मौजूदा अध्यक्ष संदेश जैन को सहयोगी आरोपी बनाया है। जैन भाजपा नेता है। इनका स्टोन क्रेशर है। मार्च 2018 में जब डॉ. रचना के पद छोड़ने पर कमान जैन को सौंपी। बयान में संदेश जैन ने कहा कि हम तो मैडम जहां कहती थी, वहां हस्ताक्षर कर देते थे। 

लड़कियों के साथ यौन शोषण का मुख्य आरोपी ओमप्रकाश उर्फ राजू भारतीय ही है। वह भारतीय बाल कल्याण समिति अध्यक्ष डॉ. रचना का पति है। ओमप्रकाश के पिता कुंदनमल भारतीय कांग्रेस नेता एवं नपाध्यक्ष रह चुके हैं। अभी ओमप्रकाश ब्याज पर पैसे देने का काम करता है। 

दिलीप बरैया संस्था के सचिव है। ये आरएसएस के कार्यकर्ता, भाजयुमो के पूर्व मंडल अध्यक्ष भी रहे। दिलीप नगर के मीसाबंदी राजमल बरैया के पुत्र है। ज्वैलरी शॉप है। ये भी सहयोगी आरोपी है। संस्था के संचालन व हिसाब-किताब के मामले इन्हीं के हस्ताक्षर से संपन्न हो रहे थे। यौन शोषण में फिलहाल नाम नहीं है।