LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




MAHA SHIVRATRI: मनोकामना पूर्ति हेतु शिवपुराण के अनुसार पौधारोपण करें | JYOTISH

27 February 2019

क्या किसी पौधे का रोपण करने से मनोकामना पूर्ति होती है। क्या एक पौधे को रोप देने भर से संतान, धन, एश्वर्य आदि की प्राप्ति हो सकती है। हिंदुओं के धर्मशास्त्र शिवपुराण में बताया गया है कि वृक्ष लगाने से मनवांछिंत फल प्राप्त होते हैं। शिवपुराण में भीष्म को महर्षि पुलस्त्य ने विभिन्न वृक्षों के बारे में बताया है और कहा कि वृक्ष पुत्रहीन व्यक्ति को पुत्र होने का वरदान देते है। आइए जानते हैं, किस वृक्ष को लगाने से क्या फल प्राप्त होता है: 

  • पीपल का वृक्ष लगाने से एक हजार पुत्रों के बराबर फल मिलता है और धन की प्राप्ति होती है। साथ ही पीपल से रोग का नाश होता है।
  • अशोक के वृक्ष के रोपण से शोक का नाश होता है।
  • पाकड़ का वृक्ष यज्ञ का फल देने वाला होता है।
  • नीम के वृक्ष से दीर्घायु प्राप्त होती है।
  • जामुन के वृक्ष से कन्या रत्न की प्राप्ति होती है।
  • अनार के वृक्ष से पत्नी की प्राप्ति होती है।
  • पलाश ब्रह्मतेज प्रदान करता है।
  • खैर का वृक्ष लगाने से आरोग्य की प्राप्ति होती है।


  • नीम का वृक्ष लगाने से भगवान सूर्य प्रसन्न होते हैं।
  • बेल के वृक्ष में भगवान शिव का वास होता है।
  • गुलाब के पौधे में देवी पार्वती का निवास है।
  • अशोक के वृक्ष में अप्सराओं और मोगरे की बेल में गंर्धव का निवास बताया गया है।
  • बेंत का वृक्ष लुटेरों को भय देता है।
  • चंदन के वृक्ष से पुण्य और कटहल के पेड़ से लक्ष्मी प्राप्त होती है।
  • ताड़ का वृक्ष संतान का नाश करता है।
  • मौलसिरी से कुल की वृद्धि होती है।
  • केवड़े के पौधे से शत्रु का नाश होता है।
  • इसके साथ ही जो लोग पौधे लगाकर उनकी देखभाल करते हैं उनको परलोक में सर्वश्रेष्ठ प्राप्त होता है।



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->