LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




GWALIOR में फिर 'भारत बंद' के पोस्टर लगे, पिछली बार 9 मरे थे | MP NEWS

26 February 2019

ग्वालियर। संविधान बचाओं समिति ने दीवारों पर 5 मार्च को भारत बंद के पोस्टर चस्पा कर एक बार फिर आंदोलन ( protest ) का आव्हान किया है। पोस्टर के साथ समिति के फेसबुक अकाउंट पर भारत बंद (BHARAT BAND ) के एलान का प्रचार शुरू कर दिया है। पंजाब, हरियाणा, छत्तीसगढ़ व नईदिल्ली में बंद को सफल बनाने के लिए बैठकें की जा रहीं हैं। खुफियां एजेंसियां व पुलिस भी सक्रिय हो गई है कि यह पोस्टर कहां प्रिंट हुए हैं? और इन्हें शहर की दीवारों पर कौन चिपका रहा है। हालांकि पुलिस अफसर अधिकारिक रूप से अनभिज्ञता जता रहे हैं।

खुफिया एजेंसियों के हुए कान खड़े

शहर में भारत बंद के एलान के पोस्टर चिपकाने वाला अब तक कोई व्यक्ति सामने नहीं आया है। संविधान बचाओ समिति का नाम तो है, लेकिन पोस्टर इसका रजिस्ट्रेशन नंबर नहीं है। इस समिति के अध्यक्ष व सचिव कौन हैं? और उनकी प्रोफाइल क्या है? इसका पोस्टर पर कोई उल्लेख नहीं है। खुफिया एजेंसियों ने इस समिति से प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रुप से जुड़े कुछ लोगों को चिन्हित किया है। इनकी गतिविधियों पर नजर रखना शुरु कर दी है। इनके वाट्सप ग्रूप, फेसबुक अकाउंट, ट्विटर व अन्य सोशल मीडिया के साधनों की निगरानी की जा रही है। हालांकि अब तक संविधान बचाओ समिति के फेसबुक अकाउंट की बॉल पर यह पोस्टर नजर आ रहा है। फेसबुक पर 3 फरवरी को नईदिल्ली में एक बैठक का भी उल्लेख है।

अंचल में हुईं थी 9 मौत, 3 गोली से मरे

गौरतलब है कि पिछले साल 2 अप्रैल को भारत बंद का आव्हान किया गया था। इस दौरान तोड़फोड़ व आगजनी के बीच गोलीबारी होने से ग्वालियर-अंचल में नौ लोगों की जानें गईं थी। इनमें तीन लोगों की मौत गोली लगने से जिले में हुई थी। आंदोलन का केंद्र ग्वालियर-चंबल अंचल था।

जानकारी नहीं है

अभी पोस्टर चस्पा किये जाने की बात मेरी जानकारी में नहीं है। दिखवाता हूं कहां यह पोस्टर लगे हैं और किसने लगवायें हैं।
सतेंद्र सिंह तोमर, एएसपी

भारत बंद के पोस्टर अभी हमारी नजर नहीं आए हैं। हमने कोई पोस्टर नहीं हटवाए। दिखवाते हैं कि यह पोस्टर बाड़े पर कहां चिपके हैं और किसने चिपकाए हैं।
अरुण मिश्रा, कोतवाली थाना प्रभारी



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->