FUTURE MAKER CMD के परिवार से वसूली कर रहे हैं निवेशक | BUSINESS NEWS

08 February 2019

हिसार/हरियाणा। FUTURE MAKER LIFE CARE PRIVATE LIMITED के सीएमडी राधेश्याम सुथार (RADHE SHYAM SUTHAR) फिलहाल जेल में हैं परंतु अब फ्यूचर मेकर कंपनी में पैसा लगाने वाले और इंतजार करने के मूड में नहीं हैं। वो अपना पैसा वसूलने के लिए क्राइम करने से भी नहीं चूक रहे हैं। सीएमडी के परिवार को धमकियां दीं जा रहीं हैंं। उनके अपहरण का प्रयास हो रहा है। अब तक 1 करोड़ रुपए से ज्यादा की वसूली की जा चुकी है। 

राधेश्याम के घर पर परिजनों को धमकाकर पैसे मांगने का मामला आ चुका। राधेश्याम के भतीजे सुंदर का कहना है कि कंपनी सीएमडी राधेश्याम के भाई राम सिंह को करीब दो-तीन माह पहले अगवा करके एक करोड़ रुपये वसूले गए थे। उक्त वाकया होने पर सीएमडी राधेश्याम के परिवार ने जान का खतरा बताते हुए पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई है। फ्यूचर मेकर कंपनी के सीएमडी राधेश्याम के भतीजे सुंदर ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। उसने बताया कि चाचा राधेश्याम के जेल जाने के बाद लोगों ने गैरकानूनी तरीके से अवैध वसूली की। कुछ माह पहले चाचा राम सिंह को अगवा कर जान से मारने की धमकी देकर उनसे एक करोड़ रुपये वसूले थे। इसके बाद भी और एक करोड़ रुपये की डिमांड करने लगे थे। 

जब उन लोगों से कंपनी में लगाई निवेशकों की आईडी दिखाने के लिए कहा तो दोबारा लौटकर नहीं आए थे। इस संबंध में सिरसा पुलिस काे शिकायत दी थी। आरोप है कि अब उन्हीं के साथी चाचा राधेश्याम के ढाणी सीसवाल स्थित आवास पर आकर हंगामा किया। उन्होंने सिर्फ दो बातें कहीं थी। हमारा पैसा दो या फिर गाड़ी में बैठो। सुंदर का आरोप है कि चाचा राधेश्याम जेल में बंद है। उसे पता है कि किस व्यक्ति का कितना पैसा निवेश है। वह बाहर आए तो हिसाब हो। परिजनों व रिश्तेदारों को हिसाब-किताब तक की जानकारी नहीं है। घर पर हंगामा करने वाले सभी बदमाश थे, जिनका पैसा निवेश तक नहीं है। किसी अन्य के कहने पर वसूली के इरादे से आए थे। 

फ्यूचर मेकर प्रकरण
तेलंगाना की साइबराबाद सिटी पुलिस ने गत सितंबर माह में हिसार स्थित कंपनी के मुख्य कार्यालय को सील कर दिया था। कंपनी के सीएमडी राधेश्याम व नेशनल डिस्ट्रीब्यूटर सुंदर को अरेस्ट करके अपने साथ साइबरबाद लेकर गई थी। वहां भी फ्रॉड का शिकार लोगों ने केस दर्ज करवाया था। पुलिस जांच में 60 लाख लोगों से करीब 4 हजार करोड़ की ठगी का मामला उजागर किया था। 

इधर, आठ आरोपियों को मिली जमानत 
इधर, आदमपुर थाना पुलिस ने मंगलवार को सीएमडी राधेश्याम के ढाणी सीसवाल स्थित आवास पर हंगामा करने वाले आठों आरोपियों को अदालत में पेश किया। यहां से सभी को कोर्ट ने जमानत पर रिहा कर दिया है। पुलिस जांच में सामने आया कि आरोपी प्रमोद के करीब साढ़े 32 लाख और विकास के करीब साढ़े 3 लाख रुपये निवेश की बात सामने आई है। बाकी छह आरोपी विक्रम, अनूप, संदीप, विशाल, सिल्क सहयोग के लिए साथ आए थे। जांच अधिकारी कृष्ण कुमार ने बताया कि जिनका पैसा इनवेस्ट है, वे सामने नहीं आ रहे हैं। बाकी जो राधेश्याम के घर पैसा मांगने गए थे उनकी आईडी लगी हैं या नहीं, इसकी भी तसल्ली नहीं है। फिलहाल सभी को जमानत मिल गई है। 



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

;
Loading...

Popular News This Week

 
-->