Loading...

CM KAMAL NATH की सभा से लौटे कांग्रेस नेता को बंधक बनाया, मूंछ व बाल मूंढ दिए | MP NEWS

इंदौर। सीएम कमलनाथ की सोनकच्छ में हुई सभा से लौट रहे 70 वर्षीय वरिष्ठ समाजसेवी और देवास इलाके से कांग्रेस के नेता का करीब 12 बदमाशों ने अपहरण कर लिया। उन्हे बंधक बनाकर गांव के चौराहे पर बेरहमी से पीटा गया। मूंछ व सिर के बाल मूंढ दिए। 4 घंटे तक प्रताड़ित किया जाता रहा। बाद में पुलिस ने बदमाशों से निवेदन किया तो बदमाश बंधक नेता को लेकर आए और पुलिस को सौंपकर चले गए। पुलिस ने किसी भी बदमाश को गिरफ्तार नहीं किया। 

क्या हुआ घटनाक्रम 
घटना दांगी समाज के 70 वर्षीय कांग्रेस नेता जसवंत सिंह दांगी के साथ हुई। उनके बेटे नरेंद्र सिंह दांगी ने बताया कि पिता मुख्य मंत्री कमलनाथ के कार्यक्रम में शामिल होकर लौट रहे थे। तभी शाम 6 बजे के दरमियान सम्माखेड़ी गांव में कंजर गिरोह के 12 बदमाशों ने उन्हें बाइक सहित घेर लिया और अपहरण कर ले गए। ये घटना मेरे चचेरे भाई जितेंद्र दांगी ने देखी और हमें सूचना दी। हम मौके पर पहुंचे तो बदमाश उन्हें गांव में काफी दूर तक ले गए थे। उनकी मूंछ काट दी और सिर व कान के बाल नोंचकर बुरी तरह प्रताड़ित किया। उन्हें लट्ठ व डंडों से बुरी तरह पीटा और अधमरा कर दिया। इधर, देवास पुलिस के अधिकारियों ने क्षेत्र के टीआई को गंभीरता से पड़ताल कर अपहर्ताओं तक पहुंचने के निर्देश दिए तो बदमाश उन्हें घायल हालत में पटक गए।

बेटे ने पुलिस पर आरोप लगाया 
बेटे नरेंद्र सिंह दांगी का आरोप है कि कंजर गिरोह के बदमाशों से क्षेत्र के टीआई अमित सोलंकी की सांठ-गांठ थी। उन्हें अपहरण की जानकारी होने के बाद भी वे बदमाशों तक नहीं पहुंचे। बेटे नरेंद्र ने बताया कि घायल पिता ने बताया कि जब वे अपहरणकर्ताओं के चंगुल में थे, तभी टीआई अमित सोलंकी का फोन और कुछ पुलिस कर्मियों के फोन बदमाश गिरोह के पास आए थे, वे कह रहे थे कि एसपी का हम पर दबाव है। घटना की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को लगी है। तुम्हारा काम हो गया हो तो वापस छोड़ दो। इसके बाद बदमाश उन्हें घायल हालत में पुलिस की डायल 100 के पास छोड़ भागे।

पुलिस ने किसी बदमाश को गिरफ्तार ​नहीं किया
जब उन्हें छोड़ा तो भी वृद्ध जसवंत सिंह ने आरोपियों के फोटो लेने व उन्हें गिरफ्तार करने के लिए पुलिस जवानों से कहा, लेकिन न तो उन्होंने फोटो लिए ना ही उन्हें पकड़ा। वे कहने लगे हम बाद में देख लेंगे। इसके बाद वे उसे छोड़ गए। उपचार के लिए जसवंत को चोइथराम हॉस्पिटल में भर्ती किया गया है। उन्हें गंभीर पिटाई होने से आईसीयू में रखा गया है।

दांगी समाज आक्रोशित
अपहरण की इस वारदात के बाद इंदौर और देवास के दांगी समाज में आक्रोश है। दांगी समाज के प्रदेश अध्यक्ष रवि दांगी ने बताया कि ये घटना काफी गंभीर है। घायल के बयानों के आधार पर देवास पुलिस की बदमाशों से सांठ-गांठ स्पष्ट करती है कि पुलिस बदमाशों से मिली हुई थी। ऐसे में संबंधित टीआई को सस्पेंड किया जाना चाहिए उन सभी पुलिस कर्मियों के फोन काल डिटेल भी निकाली जानी चाहिए जिनका बदमाशों से संपर्क था। इसके विरोध में पूरा दांगी समाज एसपी देवास को ज्ञापन सौंपने देवास पहुंचा।