भारतीय रेल ने भी नई नौकरियां नहीं दीं: RTI का खुलासा | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय रेल ने बंपर वेकेंसी ओपन की और परीक्षाएं आयोजित कीं परंतु रिकॉर्ड बोलता है कि रेलवे भर्ती बोर्ड ने नई नौकरियां नहीं दीं। जितने कर्मचारी रिटायर हुए, उन खाली कुर्सियों को भी पूरी तरह से नहीं भरा गया। रेलवे में कर्मचारियों की संख्या तेजी से घटती चली गई। यदि ये भर्तियां ना होतीं तो रेलवे का निजीकरण करना पड़ जाता। 

आरटीआई रिपोर्ट में जो खुलासा हुआ है उसके मुताबिक बीते कुछ साल में भारतीय रेलवे नौकरियां देने में नाकाम रहा है। न्यूज एजेंसी आईएएनएस की एक खबर में बताया गया है कि 2008 से लेकर 2018 तक एक भी साल ऐसा नहीं रहा, जब रेलवे के जितने कर्मचारी रिटायर हुए, उससे अधिक नई भर्तियां हुईं हों। इसलिए रेलवे में रिक्त पदों की संख्या करीब 3 लाख हो गई है। आंकड़ों पर गौर करें तो एनडीए सरकार और यूपीए सरकार दोनों के हालात एक जैसे ही रहे हैं। रेलवे में भर्तियों का आंकड़ा मोदी सरकार में काफी गिर गया। नवंबर 2018 तक रेलवे में ग्रुप-सी और डी के 2,66,790 पद रिक्त थे। वहीं साल 2016-17 के दौरान रेलवे में कुल 13,08,323 कर्मचारी कार्यरत थे। इस लिहाज से ग्रुप-सी और डी के नवंबर 2018 तक 10,41,533 कर्मचारी रह गए। बता दें कि 2008-09 में रेलवे में कर्मचारियों की कुल संख्या 13,86,011 थी।

मोदी सरकार के कार्यकाल में आंकड़े
मोदी सरकार के कार्यकाल के दौरान रेलवे में नई भर्तियों के आंकड़े में बड़ी गिरावट आई। 
2014-15 में रिटायर्ड कर्मचारियों की संख्या 59,960 और नई भर्तियां 15,191 हुईं। 
2015-16 में रिटायर्ड कर्मचारियों की संख्या 53,654 और नई भर्तियां 27,995 रहीं। 
2016-17 में रिटायर्ड कर्मचारियों की संख्या 58,373 और नई भर्तियां 19,587 हुईं। 
2017-18 में रिटायर्ड कर्मचारियों की संख्या उपलब्ध नहीं और नई भर्तियां 19,100 हुईं।

यूपीए सरकार के कार्यकाल में आंकड़े
यूपीए के कार्यकाल में आंकड़े भी कुछ अच्‍छे नहीं रहे। यूपीए सरकार के कार्यकाल के दौरान रेलवे में भर्तियों के आंकड़े की बात करें तो साल 2007-08 में रिटायर्ड कर्मचारियों की संख्या 42,149 थी। हालांकि इस साल होने वाली नई भर्तियों के आंकड़े उपलब्ध नहीं हैं। 
2008-09 में रिटायर्ड कर्मचारी 40,290, नई भर्तियां 13,870 हुईं।
2009-10 में रिटायर्ड कर्मचारी 41,372, नई भर्तियां 11,825 हुईं।
2010-11 में रिटायर्ड कर्मचारी 43,251, नई भर्तियां 5,913 हुईं। 
2011-12 में रिटायर्ड कर्मचारी 44,360, नई भर्तियां 23,292 हुईं। 
2012-13 में रिटायर्ड कर्मचारी 68,728, नई भर्तियां 28,467 हुईं। 
2013-14 में रिटायर्ड कर्मचारी 60,728 नई भर्तियां 31,805 हुईं।