Loading...

शहीद दिवस: कमिश्नरों और कलेक्टरों को निर्देश | MP NEWS

भोपाल। प्रदेश में शहीद दिवस 30 जनवरी को राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के बलिदान दिवस और अन्य शहीदों की स्मृति में दो मिनिट का मौन धारण किया जायेगा। सामान्य प्रशासन विभाग ने इस संबंध में समस्त विभागों, कमिश्नरों और कलेक्टरों को निर्देश जारी किये हैं।

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में जीवन का बलिदान देने वाले शहीदों को तीस जनवरी को प्रदेश भर में स्मरण करते हुए पूर्वान्ह 11 बजे सभी कार्य और गतिविधियाँ रोककर दो मिनिट का मौन धारण के संबंध में सभी विभागों को विस्तृत निर्देश भेजे गये हैं। निर्देशों में कहा गया है कि मौन धारण के लिये सायरन बजाकर/ सेना की तोप दागकर आवश्यक व्यवस्था भी की जाये। शहीद दिवस 30 जनवरी को पूर्वान्ह 10 बजकर 59 मिनिट पर प्रथम सायरन एक मिनिट तक बजाया जाये। फिर दो मिनिट के बाद अर्थात 11 बजकर दो मिनिट से 11 बजकर तीन मिनिट तक ऑल क्लियर सायरन बजाया जाये। जहाँ भी सायरन उपलब्ध है, यही कार्य विधि अपनाई जाये। 

जिला कलेक्टरों से कहा गया है कि व्यवहारिक रूप से जहाँ भी संभव हो, दो मिनिट का मौन शुरू होने और समाप्त होने की सूचना दी जाये। सिग्नल सुनकर जो व्यक्ति जहाँ उपलब्ध हो, खड़े होकर, मौन धारण करें। अकेले खड़े होने के स्थान पर अधिक व्यक्ति एक ही स्थान पर एकत्र होकर मौन के लिये खड़े हो सकें, तो यह और भी कारगर एवं प्रभावशाली होगा। यदि एक स्थान पर एकत्र होने से कार्य के अस्त-व्यस्त होने की आशंका हो, तो सबको एक जगह एकत्रित होने की आवश्यकता नहीं है।

सामान्य प्रशासन विभाग ने जारी निर्देश में 30 जनवरी को सभी जिलों और शहरों में सायरन की व्यवस्था कर शहीदों की स्मृति में मौन धारण करने के लिये आम नागरिकों के साथ ही औद्योगिक प्रतिष्ठानों, अशासकीय संस्थाओं से भी अनुरोध किया है। निर्देशों में कहा गया है कि विद्यालयों और महाविद्यालयों में सायरन की जगह घण्टी की व्यवस्था की जा सकती है।

दैनिक कार्य त्यागकर करें मौन धारण
सामान्य प्रशासन विभाग ने आग्रह किया है कि कार्यालयों में जब दो मिनिट का मौन रखा जा रहा हो, तब आम लोग अपने दैनिक कार्य को दो मिनिट के लिये त्यागकर इसमें शामिल हों। शहीद दिवस सम्पूर्ण गरिमा के साथ मनाया जाये।

मंत्रालय उद्यान में मनाया जाएगा शहीद दिवस
शहीद दिवस पर राजधानी भोपाल में मंत्रालय के द्वार क्रमांक-एक के समकक्ष सरदार वल्लभ भाई पटेल उद्यान में पूर्वान्ह 11 बजे मौन धारण किया जायेगा। इसमें वरिष्ठ अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित रहेंगे।