Advertisement

कम्प्यूटर ऑपरेटर: प्रदेश भर में विधायकों को बधाई के साथ ज्ञापन दे रहे हैं | MP EMPLOYEE NEWS



भोपाल। सत्ता परिवर्तन में शासकीय कर्मचारियों के विशेष योगदान को दृष्टिगत रखते हुए नव निर्वाचित मुख्यमंन्त्री कमलनाथ जी कर्मचारियों को सौगात दिए जा रहे है उन्होंने अपने वचन पत्र अनुसार कार्य करना प्रारंभ भी कर दिया है। इसी सिलसिले में मध्यप्रदेश शासन के समस्त शासकीय/अर्द्धशासकीय विभागों में समस्त प्रकार के कार्यरत कंप्यूटर ऑपरेटरों ने भी सत्ता परिवर्तन में अपना विशेष योगदान प्रदान किया है। 

ज्ञात हो कि सम्पूर्ण मध्य प्रदेश में समस्त प्रकार के 65000 से भी अधिक कंप्यूटर आपरेटर कार्यरत है। इन कंप्यूटर आपरेटरों का शोषण लंबे समय से चला आ रहा है। अब इन कंप्यूटर आपरेटरों ने अपनी कमर कसी है तथा समस्त प्रकार के नवनियुक्त विधायकों को एवं मंत्रियों को जगह जगह स्‍वागत करते हुए मुख्यमंन्त्री कमलनाथ जी के नाम से ज्ञापन सौंप रहे है।

ज्ञापन में मुख्य रूप से निम्न बिन्दुओ को दर्शाया गया है- 
1. शासन के समस्त शासकीय एवं अर्ध शासकीय विभागों में कंप्यूटर आपरेटर का पद बनाए जाकर पूर्व से कार्यरत कंप्यूटर आपरेटरों को स्थाई किये जाने का अनुरोध।
2.खाद्य विभाग, तथा कृषि विभाग से बजट ना होने की दशा में कंप्यूटर आपरेटरों निकाला गया है उन्हें वापस कार्य पर रखे जाने का अनुरोध किया गया। 
3. आउटसोर्स कॉम्पनियों द्वारा प्रत्येक वर्ष अरबो का घोटाला भी उजागर किया गया है।
4. लोकसेवा गारंटी अधिनियम के तहत लोकसेवा केंद्रों में कार्यरत कंप्यूटर आपरेटरों का स्थायीकरण किये जाने का अनुरोध
5. ई उपार्जन तथा कृषि उपज मंडियों में कार्यरत कंप्यूटर आपरेटरों को भी नियमितीकरण की श्रेणी में लाये जाने का अनुरोध।
6. महिला एवं बाल विकाल एवं NDVA विभाग में कार्यरर कंप्यूटर आपरेटरों को विभाग द्वारा स्टेशनरी का बिल लगाकर अनियमित भुगतान किया जाता है इन विभागों पर विशेष ध्यान दिए जाने का अनुरोध।
7. संविदा में कार्यरत कंप्यूटर आपरेटरों को पद सृजित किया जाकर नियमितीकरण का लाभ दिया जाने का अनुरोध।

मध्य प्रदेश महासंघ द्वारा अवगत कराया है कि आने वाले समय मे भोपाल में शासन के समस्त विभागों में कार्यरत कंप्यूटर आपरेटरो द्वारा भोपाल में एक विशाल सभा का आयोजन किया जा सकता है जिसमे माननीय मंत्रियों, विधायको को मंच पर आमंत्रित किया जावेगा। यह पहला मौका होगा जब कंप्यूटर आपरेटर विशाल संख्या में एक जगह एक साथ सभा मे भाग लेंगे तथा अपने साथ हो रहे अन्याय एवं शोषण के संबंध में शासन को अवगत कराएंगे।