'हाउ इज द जोश' क्या है, मोदी, गडकरी, निर्मला और पर्रिकर ने क्यों बोला | NATIONAL NEWS

28 January 2019

नई दिल्ली। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद भारत की रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, सड़क परिवहन और राजमार्ग, जहाज़रानी, जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री नितिन गडकरी एवं गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने विभिन्न कार्यक्रमों में 'हाउ इज द जोश' बोला। इस तरह उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक पर बनी फिल्म 'उरी' को प्रमोट किया। 

दरअसल, यह डायलॉग उरी फिल्म का है। लोकसभा चुनाव से पहले 2 फिल्में आईं हैं जिन्हे भाजपा प्रमोट कर रही है। पहली है 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' और दूसरी 'उरी'। 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' ​में कांग्रेस का मजाक उड़ाया गया है। भाजपा का मानना है कि यह फिल्म लोगों में कांग्रेस के प्रति गुस्से को फिर से बढ़ाएगी और 2014 जैसे हालात पैदा कर देगी। इसी तरह 'उरी' फिल्म से भाजपा को उम्मीद है कि यह देशभक्ति का जज्बा पैदा करेगी जो 2019 में भाजपा के लिए वोट में तब्दील हो जाएगा। 

प्रमोशन की शुरूआत पीएम मोदी ने की
इसी शुरूआत खुद पीएम मोदी ने की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुंबई में सिनेमा म्यूजियम की नई बिल्डिंग के उद्घाटन के मौके पर बॉलीवुड अभिनेताओं से पूछा- हाउ इज द जोश। फिर यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया गया। साथ ही मीडिया तक यह जानकारी पहुंचाई गई कि यह डायलॉग उरी फिल्म का है। जो 2016 में भारतीय सेना द्वारा एलओसी के उस पार की गई सर्जिकल स्ट्राइक पर आधारित है। 

फिर रक्षामंत्री फिल्म् देखने गईं, फिर गडकरी और पर्रिकर
निर्मला सीतारमण ने रविवार सुबह बेंगलुरु में पूर्व सैनिकों के साथ उरी फिल्म देखी। इस दौरान उन्होंने सैनिकों से पूछा- हाउ इज द जोश। इसके बाद केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और पर्रिकर ने रविवार को पणजी में मांडवी नदी पर बने पुल का उद्घाटन किया। इसका नाम ‘अटल सेतु’ रखा गया। इस मौके पर पर्रिकर ने पूछा- हाउ इज द जोश। हाउ इज द जोश। मैं अपना जोश तुम लोगों को देता हूं और यहां बैठकर कुछ शब्द बोलूंगा। 



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

;
Loading...

Popular News This Week

 
-->