Advertisement

मध्यप्रदेश: अब आरक्षित विधायक को डिप्टी CM बनाने की मांग | MP NEWS



भोपाल। हाल ही में मायावती ने 2 अप्रैल भारत बंद के दौरान हिंसक प्रदर्शन के आरोपियों के खिलाफ दर्ज मामले वापस लेने की मांग करते हुए समर्थन वापसी की धमकी दी थी। अब एससी-एसटी वर्ग से उप मुख्यमंत्री बनाए जाने की मांग सामने आ गई है। 

अभा अनुसूचित जाति-जनजाति अधिकार परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष इंद्रेश गजभिये ने सोमवार को यहां मीडिया से चर्चा में कहा कि कांग्रेस द्वारा एससी-एसटी उम्मीदवार को उप मुख्यमंत्री नहीं बनाने के विरोध में हर संभाग में एससी-एसटी सम्मेलन किए जाएंगे। उन्होंने कहा पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह और दिग्विजय सिंह ने भी इस वर्ग से उपमुख्यमंत्री बनाए थे। इस परंपरा को मुख्यमंत्री कमलनाथ ने समाप्त कर दलित-आदिवासियों का अपमान किया है। 

CONGRESS MLA Bisahulal Singh के लिए लामबंदी

उन्हाेंने कहा कि कांग्रेस के आदिवासी विधायक बिसाहूलाल सिंह फूट-फूटकर रो रहे हैं। कांग्रेस ने इस समाज के समर्थन की अनदेखी की है। उन्होंने बताया कि इस संबंध में उन्होंने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष RAHUL GANDHI को भी पत्र भेजा है।