2019 में मिडिल क्लास वालों के लिए सबसे अच्छे INVESTMENT PLANS | BUSINESS NEWS

03 January 2019

NEW DELHI: बचत और निवेश मध्यमवर्गीय लोगों के लिए सबसे बड़ी समस्या होती है। उनकी बचत लिमिटेड होती है और निवेश व बचत योजनाओं की जानकारी जुटाने के लिए वक्त नहीं होता। इसी समस्या का समाधान करने फाइनेंशियल एक्सपर्ट अजय केडिया ने कुछ सुझाव दिए हैं। ऐसी निवेश और बचत योजनाएं जो आपकी मेहनत की कमाई को खतरे में नहीं डालेगी और सबसे ज्यादा INTREST भी दिलाएगी। 

राष्ट्रीय पेंशन योजना / National Pension Scheme ( NPS )


नेशनल पेंशन सिस्टम का प्रदर्शन पिछले कुछ सालों में अच्छा रहा है। यह निवेश का आकर्षक विकल्प है। सरकारी कर्मचारियों के साथ यह योजना सभी के लिए खुली है। आप अपनी रिटायरमेंट का प्लान करके इसमें सालाना या मासिक निवेश कर सकते हैं। भारतीय नागरिक और एनआरआई जिनकी उम्र 18 से 60 वर्ष है वह एनपीएस की सदस्यता ले सकते हैं। इस योजना के तहत आप इक्विटी कॉरपोरेट बॉन्ड और सरकारी प्रतिभूतियों में अपना पैसा लगा सकते हैं। इसका फायदा यह है कि आपको धारा 80 सीसीसीडी के तहत 50,000 रुपये का टैक्स छूट भी मिल जाएगी। नए साल में निवेश के लिए यह बेहतर विकल्प है। इस स्कीम में कम से कम 7.5 फीसद की दर से रिटर्न मिल जाता

प्रधानमंत्री जीवन ज्‍योति बीमा योजना / Prime Minister Jeevan Jyoti Bima Yojana


प्रधानमंत्री जीवन ज्‍योति बीमा योजना जो खासकर जीवन बीमा को ध्यान में रखकर लाया गया है। अब भी ग्रामीण इलाकों में लोगों को बीमा का पूरा कवरेज नहीं मिल पाता है। इस योजना के तहत, 330 रुपए के प्रीमियम पर सालाना 2 लाख रुपए का जीवन बीमा कवर मिलेगा। इस बीमा का लाभ 18 से 50 वर्ष तक के लोग उठा सकते हैं। इस पॉलिसी की परिपक्वता (मैच्योरिटी) की उम्र 55 साल है। इसकी सारी प्रक्रिया डिजिटल है और किसी भी सेवा का लाभ लेने के लिए कोई फॉर्म भरने की जरूरत नहीं है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJBY) में निवेश के बाद अगर व्यक्ति की मौत हो जाती है तो उसके परिवार को 2 लाख रुपए मिलेंगे।


इस स्कीम को खरीदने के लिए किसी मेडिकल जांच की जरूरत नहीं है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJBY) के तहत टर्म प्लान को हर साल रिन्यू कराना पड़ता है। कोई भी व्यक्ति प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना को एक साल या उससे ज्यादा वक्त के लिए चुन सकता है। अगर किसी व्यक्ति ने लंबी अवधि के लिए बीमा का विकल्प चुना है तो उसका बैंक हर साल प्रीमियम की रकम बैंक के बचत खाते से खुद काट लेगा। बीमा कवर की अवधि के दौरान यदि सदस्य की मौत हो जाती है, तो 2 लाख रुपए की राशि उसके परिजनों (नॉमिनी) को प्राप्त होगी। फाइनेंशियल एक्सपर्ट अजय केडिया ने नए साल में इस योजना में निवेश को अच्छा बताया।

पब्लिक प्रोविडेंट फंड/ Public provident fund (पीपीएफ)


यह भी निवेश के लिए अच्छा विकल्प है। पीपीएफ में निवेश से टैक्स बेनिफिट्स तो देता ही है, साथ ही यह एक सुरक्षित भविष्य की नींव भी रखता है। पीपीएफ में निवेश, ब्याज दर और मैच्योरिटी पर मिली रकम टैक्स फ्री होती है। पीपीएफ अकाउंट ऑनलाइन खोला जा सकता है। पब्लिक प्रोविडेंट फंड (पीपीएफ) के तहत आप अपने और अपने नाबालिग बच्चों का भी अकाउंट खोल सकते हैं। पीपीएफ में सालाना न्यूनतम निवेश की सीमा 500 रुपये है। वहीं, इसकी अधिकतम सीमा 1.5 लाख तक जाती है। आप इसमें 1.5 लाख से ज्यादा का निवेश नहीं कर सकते हैं। पीपीएफ अकाउंट एग्जेंप्ट-एग्जेंप्ट-एग्जेंप्ट कैटेगरी में आता है, लिहाजा इसमें लॉक इन पीरियड से पहले की जाने वाली कोई भी निकासी कर के दायरे से बाहर होती है। साल 2018 में इस पर 7.6 फीसद की दर से ब्याज दिया जा रहा है जो कि बाजार में उपलब्ध अन्य निवेश विकल्पों की तुलना में काफी ज्यादा है।


प्रधानमंत्री जनधन योजना / Prime Minister Jandhan Yojana


इस योजना को लाने का मुख्य उदेश्य ये है कि जो व्यक्ति जिस रकम का हक़दार है उसे उतनी राशि मिले। मान लीजिए ग्रामीण इलाकों में कोई व्यक्ति काम कर रहा है और उसे अपनी मजदूरी का 500 रुपये या 300 रुपये मिलना है उसे मिले। इसका खास मकसद ये है कि जितना रकम कागजों में दिखाया जाता है उतनी रकम अमुख व्यक्ति को मिले। इसका खास मकसद लोगों के सामान्य बैंक खाते खुलवाना और उन्हें रुपे कार्ड से लैस करना है।

सरकार ने ‘प्रधानमंत्री जन धन योजना’ के तहत पांच हजार रुपये के ओवरड्राफ्ट की सुविधा को दोगुना कर 10,000 रुपये कर दिया है। खाताधारकों को ओवरड्राफ्ट की सुविधा का इस्तेमाल करते समय दो हजार रुपये उनके खाते से निकालने के लिए किसी भी शर्त का पालन नहीं करना पड़ेगा। पहले ओवरड्राफ्ट की सुविधा 18 से 60 वर्ष तक के खाताधारकों को उपलब्ध थी। अब 65 वर्ष तक की उम्र वाले खाताधारकों को भी यह सुविधा उपलब्ध होगी। इस योजना के तहत प्रत्येक वयस्क व्यक्ति का खाता खोला जाएगा। जिस नए खाताधारकों को रुपे कार्ड मिलेगा, उन्हें दो लाख रुपये के दुर्घटना बीमा की सुविधा मिलेगी। पहले यह सुविधा एक लाख रुपये तक के Accident Insurance की थी।

इस योजना के तहत जनधन-आधार-मोबाइल (JAM) की बदौलत कवरेज के लिए वित्तीय रूप से शामिल और बीमित समाज को डिजिटलाइजेशन की सुविधा मिलती रहेगी। यह बचत और जमा खाता, बीमा आदि जैसे मूल बैंकिंग सेवाएं भी प्रदान करता है।

सुकन्या समृद्धि योजना / Sukanya Samriddhi Yojana


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुकन्या समृद्धि योजना को जनवरी 2015 में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत लॉन्च किया था। यह बच्ची के वित्तीय भविष्य के लिहाज से एक शानदार स्कीम मानी जाती है। ऐसा इसलिए क्योंकि यह एक सरकार समर्थित स्कीम है और इस पर ब्याज दर भी काफी अच्छा है। इसका खाता आप किसी भी अधिकृत वाणिज्यिक बैंक या फिर भारतीय डाकघर में खुलवा सकते हैं। अगर आप अपनी बच्ची की शादी, उसकी पढ़ाई एवं वित्तीय सुरक्षा के लिए निवेश करना चाहते हैं तो सुकन्या आपके लिए एक बेहतरीन विकल्प है, क्योंकि इस पर आपको 8.5 फीसद की दर से ब्याज मिलेगा।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->