BJP नेता व उसकी पत्नी ने रिटायर्ड फौजी से ठगे 4 लाख रुपए | GWALIOR NEWS

07 December 2018

ग्वालियर। मंत्रियों के साथ अपने फोटो दिखाकर भाजपा नेता व उनकी पत्नी ने रिटायर्ड फौजी से 4 लाख रुपए ठग लिए। दंपति ने फौजी को NCC में वाहन चालक की नौकरी लगवाने का झांसा देकर ठगी की। घटना 25 सितंबर 2017 वायुनगर भिंड रोड की है। पीड़ित को जाल में फंसाने के लिए आरोपी एक दिन फौजी को दतिया पीताम्बरा ले गया। यहां एक पूर्व मंत्री से मिलकर उसके संबंध में बात करने का नाटक भी किया। जब NCC चालक वर्ग का रिजल्ट आया और फौजी का सिलेक्शन नहीं हुआ तो पीड़ित ने रुपए वापस मांगे। 

भाजपा नेता ने रुपए लौटाने से इंकार कर दिया। इस पर पीड़ित ने पुलिस की शरण ली। पुलिस ने आरोपी दंपति के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। गोला का मंदिर पुष्कर कॉलोनी बी-96 निवासी संजय सिंह (40) पुत्र मास्टर सिंह भदौरिया सेना में हवलदार थे। अगस्त 2016 में सेना की नौकरी से सेवानिवृत होने के बाद उन्होंने अपने लिए नई नौकरी की तलाश शुरू की। संजय ने NCC में सिविल मोटर ड्राइवर की पोस्ट के लिए आवेदन किया था।

20 सितंबर 2017 को सुबह 10 बजे संजय टेस्ट देने के लिए एनसीसी अफसर प्रशिक्षण अकादमी स्टेशन रोड पर पहुंचे। यहां उन्हें सेना से रिटायर्ड व भाजपा नेता इन्द्रवीर सिंह भदौरिया निवासी वायुनगर मिले। परिचित होने के कारण बातचीत हुई। इस पर इन्द्रवीर ने कहा कि बिना जुगाड़ के कुछ नहीं होता, 4 लाख रुपए में नौकरी लग जाएगी, कमांडर मेरा दोस्त है। इसके बाद उसने मोबाइल निकालकर कुछ लोगों से 4 लाख रुपए में नौकरी के नाम पर बातचीत की। साथ ही उसे बताया कि कई मंत्रियों और बड़े नेताओं से उसके अच्छे संबंध हैं।

संजय ने चेक से 4 लाख रुपए देने की बात कही तो इन्द्रवीर ने लेने से इनकार कर दिया। पीड़ित अपने दोस्त से उधार लेकर 25 सितंबर को भाजपा नेता के घर वायु नगर पहुंचा। यहां भाजपा नेता की पत्नी अंजू भदौरिया मिली। उन्होंने भी नेताओं और मंत्री के साथ घर में लगे फोटो संजय को दिखाए। इसके बाद 4 लाख रुपए ले लिए।

मंत्री से बात करने का किया नाटक


संजय ने बताया कि मुझे विश्वास दिलाने नवदुर्गा उत्सव के दौरान इन्द्रवीर व उसकी पत्नी दतिया पीताम्बरा पीठ दतिया लेकर पहुंचे। यहां पूर्व मंत्री ध्यानेन्द्र सिंह मंदिर में पूजा कर रहे थे। इन्द्रवीर ने कहा कि वह पूर्व मंत्री से बात करके आता है, तुम मत आना। सबके सामने रुपयों की बात नहीं होती है। कुछ देर बाद वह लौटा और बोला कि काम हो जाएगा।

अप्रैल 2018 में एनसीसी के मोटर ड्राइविंग टेस्ट का रिजल्ट आ गया। संजय का चयन नहीं हुआ तो उसने रुपए वापस मांगे। पहले भाजपा नेता दंपति टहलाते रहे पर दबाव बनाने पर मई 2018 में एटीएम से 40 हजार रुपए निकालकर दे दिए। इसके बाद जून में 50 हजार रुपए घर आकर दे गए। बाद में 3.10 लाख रुपए देने से मना कर दिया। इसके बाद शिकायत की गई। पुलिस ने जांच के बाद धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->