Loading...

शिवराज सिंह की बैठक में बधाईयां बंटी, कांग्रेस से बोले 5 साल और करो इंतजार | MP NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने चुनावी नतीजों से पहले बीजेपी नेताओं के साथ अपने आवास पर बैठक की। बैठक में शिवराज ने बीजेपी पदाधिकारियों और नेताओं को मतगणना को लेकर टिप्स दिए। इस दौरान नए प्रत्याशियों को ईवीएम मशीन की जानकारी देने पर भी चर्चा हुई। 

बैठक से पहले शिवराज ने एग्जिट पोल को खारिज करते हुए कहा कि आप नोट कर लीजिए बीजेपी सरकार बना रही है। सरकार के खिलाफ एंटी नहीं प्रो इनकंबेंसी थी। शिवराज ने कहा कि बैठक में मतगणना के दौरान सावधानियों पर भी चर्चा करेंगे, हमने जो लक्ष्य तय किया उसके आसपास हमारी सीटें आएंगी। उन्होंने कांग्रेस पर भी हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस बौखलाई हुई है, इसलिए उन्हें अब मेरे बांधवगढ़ जाने पर भी आपत्ति है।

जानकारी के अनुसार बैठक में सीएम शिवराज के लिए तालियां भी बजाई गईं। प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने चौथी बार सरकार बनाने के लिए सीएम को बधाई भी दी। इसके बाद सीएम शिवराज ने राकेश सिंह और उनकी टीम को भी बधाई दी।

वहीं बैठक को लेकर जनसंपर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि रविवार को पहली बार चुनाव लड़ रहे नए प्रत्याशियों को ईवीएम और मतगणना के बारे में जानकारी भी दी जाएगी। इससे पहले सीएम शिवराज ने एग्जिट पोल पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि, 'मुझसे बड़ा सर्वेयर कोई नहीं हो सकता। मैं दिन-रात जनता के बीच घूमता हूं। पूरे विश्वास के साथ कह रहा हूं कि भारतीय जनता पार्टी ही सरकार बनाएगी।' सीएम सपरिवार तीन दिन की छुट्टियों पर बांधवगढ़ गए हुए थे।

बता दें कि मध्य प्रदेश चुनाव के लिए जारी हुए एग्जिट पोल के नतीजों में कांग्रेस की स्थिति को मध्यप्रदेश में मजबूत दिखाया गया है। लगभग सभी एग्जिट पोल ने छत्तीसगढ़ को छोड़कर बाकी सभी राज्यों कांग्रेस को बड़ी पार्टी बताया है, जिसके बाद बीजेपी ने ये बैठक बुलाई है। कांग्रेस-बीजेपी दोनों पार्टियां जीत के दावे कर रही हैं।