2 साल से वेतन को मोहताज CDTP कर्मचारियों को सीएम कमलनाथ से आस

27 December 2018

भोपाल। सीडीटीपी कर्मचारियों ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि मध्य प्रदेश के नए सरकार के मुखिया श्री कमलनाथ से बड़ी आस है 2 साल से वेतन को मोहताज बेरोजगार बैठे सीडीटीपी योजना कर्मचारियों को केंद्र और मध्य प्रदेश में भाजपा सरकार होने के बाद भी इन कर्मचारियों की गुहार किसी ने नहीं सुनी। 2 साल तक सीडीटीपी योजना कर्मचारी बेगारी करते रहे लेकिन किसी ने उनका मानदेय तक नहीं दिया और खामोशी से उन्हें घर बैठा दिया गया। 

यहां बात कर रहे हैं प्रदेश के पॉलिटेक्निक कॉलेज में केंद्र सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय नई दिल्ली से संचालित कम्युनिटी थ्रू डेवलपमेंट योजना का बीते 2 वर्ष से अधिक समय बीत गया जब इस योजना के कर्मचारियों को मानदेय नहीं दिया गया। खामोशी से इनके कार्यालयों में ताला लटका दिए गए। कर्मचारी बेरोजगार हो गए और अपने पैसे की आस में यहां वहां दर-दर ठोकरें खाने लगे। प्रदेश से लेकर केंद्र तक गुहार लगाई लेकिन सुनवाई नहीं हुई। उम्मीद की आस जगी तत्कालीन छिंदवाड़ा जिले के सांसद श्री कमलनाथ से उन्होंने कहा हमारी सरकार बनेगी आप की मांग पूरी होगी । 17 दिसंबर को प्रदेश के मुखिया के तौर पर श्री कमलनाथ ने पदभार ग्रहण किया उसके साथ ही इन कम्युनिटी डेवलपमेंट थ्रू पॉलिटेक्निक के कर्मचारियों में चर्चा का दौर शुरू हो गया क्या आप उनका रुका हुआ पैसा वापस मिल जाएगा क्या उनकी बेरोजगारी खत्म हो जाएगी क्या उनके कार्यालय में लटके ताले खुल जाएंगे। 

गौर करने वाली बड़ी बात यह है कि यह सभी कर्मचारी तकनीकी रूप से दक्ष जो बेरोजगार युवकों को रोजगार मुखी पाठ्यक्रम के माध्यम से दर्ज करते और उन्हें अपने पैरों में खड़े होने लायक बना देते हैं निजी कंपनियों में भी उनके पर आए हुए बेरोजगार युवकों को रोजगार मिल जाता कम्युनिटी डेवलपमेंट के कार्यालय में ताला लगने से आज सैकड़ों बेरोजगारों के पास में रोजगार मुखी प्रशिक्षण पाने के लिए कोई दूसरे साधन नहीं है इसलिए इन कर्मचारियों के साथ साथ सैकड़ों युवा बेरोजगार भी परेशान हो रहे हैं उम्मीद की आस बस नए मुखिया कमलनाथ।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->