RSS ने RBI गवर्नर से इस्तीफा मांगा, अश्विनी महाजन ने दिया स्पष्ट बयान

01 November 2018

नई दिल्ली। आरएसएस के आर्थिक मामलों के संगठन स्वदेशी जागरण मंच (Swadeshi Jagaran Manch) के अध्यक्ष अश्विनी महाजन ने भारतीय रिजर्व बैंक के गर्वनर उर्जित पटेल को अल्टीमेटम दे दिया है। उन्होंने कहा कि उर्जित पटेल या तो पीएम नरेंद्र मोदी सरकार के साथ काम करें या फिर इस्तीफा दे दें। आरएसएस(RSS) ही केंद्र में मोदी सरकार का वैचारिक सलाहकार है। बता दें कि आरबीआई एक्ट के सेक्शन 7 को लेकर विवाद उत्पन्न हुआ है। आरबीआई का कहना है कि यह उसकी आजादी पर हमला है। 

स्वदेशी जागरण मंच के अध्यक्ष अश्विनी महाजन (Ashwani Mahajan) ने बुधवार को कहा-आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल अपने अफसरों को भी सार्वजनिक रूप से मतभेदों को उजागर करने से रोकें। यदि वह अनुशासन में नहीं रह सकते तो उचित होगा कि वह पद छोड़ दें।

दरअसल, बुधवार(31 अक्टूबर) को मीडिया में कुछ खबरें आईं, जिसमं उर्जित पटेल के आरबीआई गवर्नर पद से इस्तीफा देने की संभावना जताई गई। खबरों में कहा गया कि सरकार से इधर बीच खराब हुए रिश्तों के चलते उर्जित पटेल इस्तीफे का कदम उठा सकते हैं। सरकार और आरबीआई के बीच मतभेद तब उजागर हुए, जब बीते शुक्रवार को मुंबई के एक इवेंट में आरबीआई के डिप्टी गवर्नर डॉ. विरल आचार्य ने कहा था कि केंद्रीय बैंक की स्वायत्तता को कमजोर करना 'विनाशकारी' हो सकता है। 

जिस पर बाद में वित्तमंत्री अरुण जेटली ने आरबीआई पर भड़ास निकालते हुए कहा था कि जब एनपीए बंट रहा था, तब आरबीआई भी चुप रहा। हालांकि बाद में वित्तमंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि आरबीआई की स्वायतत्ता जरूरी है और इसका सरकार सम्मान करती है। सरकार और आरबीआई को मिलकर जनहित में काम करना चाहिए। स्वदेशी जागरण मंच के प्रमुख अश्विनी महाजन ने कहा कि सरकार को आरबीआई एक्ट के इस्तेमाल का अधिकार है।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week