RSS पदाधिकारियों से मिलकर लौटे BJP नेता ने नाम वापस नहीं लिया, निर्दलीय लड़ रहे हैं | KHANDWA MP NEWS

18 November 2018

खंडवा। भाजपा द्वारा देवेन्द्र वर्मा को टिकट दिए जाने से नाराज भाजपा नेताओं के गुट ने कौशल मेहरा को अपना प्रत्याशी बनाकर उतार दिया। पार्टी ने नाम वापसी के लिए काफी कोशिश की परंतु बात नहीं बनीं। पार्टी के नेता जब कौशल मेहरा को खंडवा में तलाश रहे थे, मेहरा भोपाल एवं इंदौर के संघ कार्यालय में थे। संघ पदाधिकारियों से मुलाकात के बाद उन्होंने चुनाव में बने रहने का फैसला किया। साथ ही यह भी दोहराया कि वो भाजपा के नहीं प्रत्याशी के विरोध में लड़ रहे हैं। यानी यदि वो जीत गए तो भाजपा को समर्थन करेंगे। अब कयास लगाए जा रहे हैं कि कौशल को संघ का समर्थन हासिल है। यदि संघ ने इशारा किया होता तो कौशल नाम वापस ले लेते। यह भी बता दें कि कौशल मेहरा को यहां हिंदुत्व का चेहरा कहा जाता है। 

भाजपा से बगावत कर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे कौशल मेहरा को नाम वापस लेने के लिए भाजपा नेता दोपहर तक ढूंढते रहे। दो दिन से घर और दोस्तों के यहां भाजपा नेता मेहरा की तलाश करते रहे। वहीं बागी कौशल कार से भोपाल और इंदौर संघ कार्यालय घूम आए। बुधवार को नाम वापसी की समय सीमा समाप्त होने के बाद निर्दलीय कौशल समर्थकों सहित शाम को एसडीएम कार्यालय चुनाव चिन्ह लेने पहुंच गए। मेहरा समर्थक चुनाव चिन्ह एयर कंडीशन को बदलने के लिए एसडीएम से मिले, लेकिन आवंटन होने के कारण बदलने से एसडीएम ने इनकार कर दिया। 

इससे पहले मेहरा का नाम वापस कराने के लिए भाजपा नेता खंडवा विधानसभा क्षेत्र का काम देख रहे पूर्णकालिक समयदानी प्रदीप यशदीप चौरे के घर पहुंचे। पूछताछ करने के बाद जब लोकेशन नहीं मिली तो भाजपा नेता गोपाल सोनी, अनिल वर्मा अपने साथ चौरे को लेकर कौशल के घर पहुंचे। यहां पर उनकी पत्नी और बच्चों से चर्चा कर मेहरा की जानकारी निकालने का प्रयास किया, लेकिन खाली हाथ रहे। तब दोपहर 1.30 बजे भाजपा कार्यालय में जिलाध्यक्ष हरीश कोटवाले ने मेहरा के प्रस्तावक दीपसिंह झाला को घर से बुलाया।

कोटवाले झाला से बोले- कहां है कौशल, बुलाओ। ऐसा थोड़े नहीं होता है कि पार्टी ने जिसे टिकट दिया उसका तुम विरोध करो। तुम लोग अपने राजनीतिक भविष्य के बारे में समझ नहीं पा रहे हो। कोटवाले की समझाइश से नाराज झाला ने कहा हम पार्टी नहीं व्यक्ति के विरोध में है। हर बार पार्टी के कार्यकर्ताओं का अपमान हो रहा है।

आनंद मोहे वापस भाजपा में चले गए
खंडवा से नामांकन करने वाले दो निर्दलीय प्रत्याशियों की नाम वापसी के बाद अब मैदान में कुल सात उम्मीदवार है। भाजपा के बागी आनंद मोहे एवं निर्दलीय स्वरूपचंद ने नाम वापस लिया। अब मैदान में भाजपा से देवेंद्र वर्मा, कांग्रेस से कुंदन मालवीय, बसपा से संपत पाचोरे, आप से संजय मेढ़ेकर, निर्दलीय कौशल मेहरा, पन्नालाल गिनारे और राजकुमार कैथवास चुनाव मैदान में है।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->