Loading...

कांग्रेस ने पीएम नरेंद्र मोदी को 'जुमलेबाज नवाब' कहा | RAJASTHAN NEWS

नरेन्द्र शर्मा/जयपुर। राजस्थान विधानसभा चुनाव में मतदाताओं को आकर्षित करने के लिए इस बार जमीनी रणनीति के साथ-साथ सोशल मीडिया पर दिलचस्प मुकाबला देखने को मिल रहा है। इस मुकाबले में कांग्रेस ने जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को निशाना बना रही है। वहीं भाजपा ने चुनाव प्रचार के लिए प्रदेश के पारम्परिक खेला ख्याल और कठपुतली खेल का सहारा लेने की रणनीति बनाई है। कांग्रेस ने पीएम और सीएम पर निशाना साधने के लिए "जुमलेबाज नवाब" एवं "महारानी थारी अंहकारी "अभियान प्रारम्भ किया है । इसके तहत वीडियो और आॅडियो सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे हैं।

कांग्रेस का सोशल मीडिया पर प्लान
स्थानीय कलाकारों की आवाज में लोकगीत तैयार किया गया है। इसमें प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को अलग-अलग मुद्राओं में दिखाया गया है। लोकगीत में पीएम को जुमलेबाजों का नवाब बताया गया है। इसमें पीएम के भाषणों के कुछ अंश दिखाए गए हैं।

वहीं सीएम को घेरने के लिए लोकगीत में जो मुख्य नारे दिए हैं उनमें- प्रदेश को किया है बेहाल, महारानी थारी अंहकारी सै,कौशल विकास विकास के नाम पर जुमलेबाजी और महारानी थारी अंकारी,स्वच्छता अभियान में मिली असफलता महारानी थारी अंहकारी से,महारानी महलों वाली और गरीबों का छीना घर बार,अवैध बजरी माफिया से है महारानी की यारी सहित कई नारों को रोचक तरीके से लोकगीत में गाया गया है। कांग्रेस ने फेसबुक,व्हाटसएप और सोशल मीडिया के अन्य माध्यमों से भाजपा को घेरने के लिए प्रत्येक जिले में 51 लोगों की टीम तैनात की है ।

भाजपा पारम्परिक तरीके से करेगी प्रचार
भाजपा ने सोशल मीडिया के साथ-साथ नुक्कड नाटक,पारम्परिक हेला ख्याल और कठपुतली खेल के माध्यम से मतदाताओं को आकर्षित करने की रणनीति तैयार की है। भाजपा ने इसके लिए लोक कलाओं की समझा रखने वाले संगीत नाटक अकादमी के अध्यक्ष अशोक पंड्या को इसकी जिम्मेदारी दी है। नुक्कड नाटक और कठपुतली खेल के माध्यम से केन्द्र की मोदी सरकार एवं राज्य की वसुंधरा सरकार की योजनाओं का बखान करने के साथ ही कांग्रेस को घेरा जाएगा।

पारम्परिक हेला ख्याल में लोक कलाकार मोदी और वसुंधरा की प्रशंसा करते हुए राहुल गांधी,अशोक गहलोत और सचिन पायलट की आलोचना करेंगे। नुक्कड नाटक,कठपुतली खेल और हेला ख्याल का प्रदर्शन भाजपा नामांकन-पत्र दाखिल होने के बाद प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में करेगी।