अर्बन माओवादी, हमारे बच्चों के हाथों में बंदूक थमाते हैं: नरेंद्र मोदी | NATIONAL NEWS

09 November 2018

जगदलपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को यहां एक चुनावी सभा में कहा कि पहले की सरकारें मेरा-तेरा की सोच वाली थीं। हम सबका साथ-सबका विकास की नीति पर काम कर रहे हैं। मैं जब भी यहां आया, कुछ न कुछ इस क्षेत्र के विकास के लिए लेकर आया। जो विकास नहीं करते थे, वे नक्सलियों और माओवादियों का नाम लेते थे। वे कहते थे कि वहां (छत्तीसगढ़) कुछ नहीं हो सकता। पर हमने करके दिखाया। जो अर्बन माओवादी हैं, वे एसी घरों में रहते हैं। उनके बच्चे विदेशों में पढ़ते हैं, अच्छी गाड़ियों में चलते हैं, लेकिन वे वहां बैठे-बैठे रिमोट से हमारे बच्चों के हाथों में बंदूक थमाते हैं।

मोदी ने कहा कि अब तक जितने प्रधानमंत्री बने, वो जितनी बार बस्तर आए होंगे, उससे ज्यादा बार मैं आया। मैं जब आया, खाली हाथ नहीं आया। विकास की कोई न कोई योजना लेकर आया हूं, ताकि आपके बच्चों का उज्जवल भविष्य बने। आपकी अगली पीढ़ी गरीबी की ओर मुंह न कर सके। बस्तर से बीमारी, भुखमरी, गरीबी को दूर भगाना है।

"अब हमारा छत्तीसगढ़ अठारह साल का हो गया है। अठारह साल की उम्र तक घर में बच्चे को जरूरत की जो चीजें होती हैं, वे अलग प्रकार की होती हैं। घर में 18 साल का बेटा हो या बेटी, उनकी जरूरतें बदल जाती हैं। उनका खर्च बढ़ जाता है। छत्तीसगढ़ जब अठारह साल का हुआ है, तो दिल्ली में बैठी सरकार भी आपके सपनों को पूरा करने में जुटी है।" 

"अभी रमन सिंह बता रहे थे। इतनी रोड बन गईं, इतनी रेलवे लाइन बिछ गईं। सरकारें तो पहले भी होती थीं, लेकिन विकास क्यों नहीं हो रहा था। पैसे पहले भी थे, योजनाएं पहले भी थीं, लेकिन कारेाबार बिचौलियों के हाथ में था और नीचे कुछ नहीं पहुंचता था। हमने बिचौलियों को साफ कर दिया इसलिए आपके हक का आपके पास पहुंच रहा है।" 

" हम अटल बिहारी वाजपेयी के सपनों को पूरा करना चाहते हैं। जब छत्तीसगढ़ मध्यप्रदेश का हिस्सा था, लोगों को यहां भुखमरी का सामना करना पड़ता था। इसके समाधान के लिए इस क्षेत्र पर विशेष ध्यान देने के लिए वाजपेयी ने छत्तीसगढ़ को अलग करने का निर्णय लिया। पहले इसकी कमान ऐसे हाथों में गई, जिन्हें देखकर लगा कि वे छत्तीसगढ़ को तबाह कर देंगे।" 

बस्तर-सरगुजा की 26 सीटें भाजपा के लिए अहम
2013 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को बस्तर की 12 में से 4 और सरगुजा संभाग की 14 में से 7 सीटों पर जीत मिली थी। इस बार भाजपा दोनों ही संभागों में अपना परफॉर्मेंस सुधारने की कोशिश कर रही है। इसी वजह से दोनों संभागों में प्रधानमंत्री मोदी का कार्यक्रम रखा गया है। इसके अलावा सबसे ज्यादा 24 सीटों वाले बिलासपुर संभाग में प्रधानमंत्री दो सभाएं लेंगे।

अब तक 6 बार छत्तीसगढ़ आ चुके हैं मोदी
प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी पहली बार 9 मई 2015 को छत्तीसगढ़ आए थे। इसके बाद 21 फरवरी 2016 को नया रायपुर और ग्राम कुर्रूभाठ पहुंचे थे। उन्होंने इसी साल एक नवंबर को छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस कार्यक्रम में हिस्सा लिया था। 
मोदी ने फिर अप्रैल में बस्तर संभाग का दौरा किया था। इसके बाद इसी महीने में जांजगीर-चांपा पहुंचे थे। यहां एक सभा को संबोधित किया था। छठवीं बार 14 मई को एक दिन के दौर पर रायपुर पहुंचे थे। इस दौरे में वे नया रायपुर स्मार्ट सिटी और भिलाई के कार्यक्रमों में शामिल हुए थे।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week