KAMAL NATH की उम्र ज्यादा हो गई है, याददाश्त कमजोर है: अमित शाह | MP ELECTION

23 November 2018

जबलपुर। कमलनाथ की उम्र ज्यादा हो गई है, इसलिए अब उनकी याददाश्त भी कमजोर हो चली है। वे भूल गए हैं कि उनकी यूपीए सरकार ने प्रदेश के साथ कितना अन्याय किया था। केंद्र में मोदी जी की सरकार बनने के बाद प्रदेश का उसका हक मिलना चालू हुआ है। आप भाजपा को आशीर्वाद दीजिए, मोदी और शिवराज का डंबल इंजन प्रदेश को तेजी से आगे ले जाएगा। यह बात शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने जबलपुर जिले के सिहोरा में सभा को संबोधित करते हुए कही।

श्री शाह ने कहा कि ये मां नर्मदा की भूमि है, जिसके दर्शन मात्र से सारे पाप धुल जाते हैं। उन्होंने कहा कि मां नर्मदा का प्रवाह मां भारती की संस्कृति और इतिहास का प्रवाह है, इसलिए जबलपुर को संस्कारधानी कहा जाता है। यह वही भूमि है जहां रानी दुर्गावती के वंशजों शंकरशाह और रघुनाथशाह ने अंग्रेजों के दांत खट्टे कर दिए थे।

मैं आपसे 11 दिसंबर की बात करने आया हूं
श्री शाह ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मैं आपसे 11 दिसंबर की बात करने आया हूं। 11 दिसंबर को क्या होने वाला है, क्या आप सुनोगे। उन्होंने कहा कि 11 दिसंबर को 5 राज्यों के चुनाव की गिनती है। सुबह 8 बजे गिनती शुरू होगी और दोपहर 12 बजे तक सभी राज्यों में भारतीय जनता पार्टी की सरकारें बन जाएंगी। श्री शाह ने कहा कि सवाल सरकार बनाने का नहीं है, सरकार ऐसी बनाएं कि विरोधियों के दिल धड़कना बंद कर दें। उन्होंने कहा कि आपके वोट मांगने का हमें अधिकार है। आपसे प्रार्थना है कि एक बार श्रीमान बंटाढार के मध्यप्रदेश को याद करिए। कहीं सड़क का नमों निशान नहीं, सिर्फ 7.5 लाख हेक्टेयर में सिंचाई,  किसानों को 18 प्रतिशत ब्याज, समर्थन मूल्य पर गेंहू,  धान, सोयाबीन की खरीदी नहीं होती थी। श्री शाह ने कहा कि अब आपके बच्चे रात में तीन बजे तक पढ़ाई करते हैं, पहले कर पाते थे क्या? बिजली ही नहीं रहती थी।

किसी की हिम्मत नहीं, जो देश की तरफ आंख उठाकर देखे
श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस के जमाने में पाकिस्तान से कोई भी आतंकी घुस आता था और जवानों पर हमला करके वापस लौट जाता था। उड़ी में पाकिस्तानी आतंकियों ने हमारे 12 जवानों को जिंदा जला दिया। लेकिन तब मोदी सरकार थी। मोदी जी ने आदेश दिया और हमारे जवान पाकिस्तान में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक करके अपने जवानों की शहादत का बदला लेकर आ गए। इससे पहले दुनिया में दो ही देश अमेरिका और इजराइल थे, जो सर्जिकल स्ट्राइक से जवानों की मौत का बदला लेते थे। मोदी जी ने महान भारत का नाम भी इन देशों में जोड़ दिया। श्री शाह ने कहा कि अब किसी की हिम्मत नहीं है कि भारत की तरफ आंख उठाकर देखे। चीन ने डोकलाम में हिम्मत की थी, लेकिन मोदी जी की सरकार ने मौन रहते हुए उसे ऐसा जवाब दिया, कि चीन को डोकलाम से वापस जाना पड़ा।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->