KHANDWA में पुलिसवाले का हंगामा: ASP की कॉलर पकड़ी, ASI को चांटे मारे | MP NEWS

15 October 2018

इंदौर। खबर खंडवा से आ रही है। यहां थाना कोतवाली में पदस्थ हेड कांस्टेबल प्रदीप तोमर (45) 2 घंटे तक हंगामा बरपाया। कोतवाली के सामने जाम लग गया। उसने एडिशनल एसपी की कॉलर पकड़ ली। एएसआई को चांटे मारे। कई पुलिस कर्मचारियों के साथ अभद्रता की। अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि उसने ऐसा क्यों किया। एसपी ने प्रदीप तोमर को सस्पेंड कर दिया है। मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं। 

कोतवाली के सामने हंगामा शुरू कर दिया

घटना रविवार रात करीब 8 बजे की है। कोतवाली की 100 डायल में पदस्थ प्रधान आरक्षक प्रदीप तोमर (45) कोतवाली थाने के बाहर सड़क पर बैठ गया और वाहनों को रोककर हंगामा करने लगा। जब टीआई बीएल मंडलोई व अन्य पुलिसकर्मी उसे हटाने गए तो उसने दो आरक्षकों के साथ झूमाझटकी कर उनके बैज फाड़कर सड़क पर फेंक दिए।

एएसपी के सामने बैठ गया, गालियां दीं, कॉलर पकड़ ली

जब एएसपी महेंद्र तारनेकर थाने का निरीक्षण करने पहुंचे तो प्रदीप उनके वाहन के सामने बैठ गया और अश्लील गालियां देने लगा। जब एएसपी वाहन से उतरे तभी प्रदीप ने उनकी कॉलर पकड़ी और जान से मारने की धमकी दी। यही नहीं जब वे टीआई के कैबिन में बैठे तब उसने दरवाजे पर लात मारकर वहां तोड़फोड़ भी की। इसके बाद वहां ड्यूटी कर रहे एएसआई अरुण कुमार बड़ोले को दो तमाचे जड़े और थाने से भाग निकला।

3 बार हिरासत से भागने की कोशिश की

रात 10 बजे पुलिस उसे पुलिस पकड़कर थाने लाने लगी तब भी उसने तीन बार वाहन से उतरकर भागने का प्रयास किया। यहां थाने के बाहर उसने फिर हंगामा किया और पानी से भरी बोतल एएसआई नानकराम पाटीदार पर दे मारी। मशक्कत के बाद पुलिस ने उसे काबू कर हिरासत में लिया।

6 दिन पहले पत्नी को घर से निकाल दिया था

रात करीब 10.10 बजे प्रधान आरक्षक की पत्नी व उसका जेठ थाने पहुंचा। पत्नी ने यहां एएसपी को बताया छह दिन पहले प्रदीप ने उसे घर से निकाल दिया। वह अपने जेठ के घर चली गई। रविवार दोपहर वह घर आया और हंगामा करने लगा। घटना के बाद वह शाम 7 बजे शिकायत लेकर थाने भी आई थी। 

पत्नी के कारण डिप्रेशन में है

प्रदीप के बड़े भाई ने बताया उसका भी तलाक हो चुका है। भाभी के बारे में प्रदीप को लोग भला बुरा कहते हैं जिससे वह डिप्रेशन में रहता है। पिछले छह दिन से वह ऐसा ही व्यवहार कर रहा है। मानसिक रोगी हाेने से उसका उपचार भी चल रहा है।

हंगामा करने, पुलिस अधिकारियों व आरक्षकों पर हाथ उठाने पर प्रधान अारक्षक को सस्पेंड किया है। मामले की जांच के बाद आगे की कार्रवाई करेंगे।
रूचिवर्धन मिश्र, एसपी
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com
-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week