छिंदवाड़ा मॉडल: कीचड़ से लबालब थी सड़क, CEO को बैलगाड़ी से जाना पड़ा | MP NEWS

Advertisement

छिंदवाड़ा मॉडल: कीचड़ से लबालब थी सड़क, CEO को बैलगाड़ी से जाना पड़ा | MP NEWS


भोपाल। अभी कल ही की तो बात है, भोपाल में बड़ी ही धूमधाम के साथ छिंदवाड़ा मॉडल की बात हुई थी। कमलनाथ कई बार दावा करते हैं कि यदि विकास देखना है तो छिंदवाड़ा आइए परंतु अब खबर आ रही है कि छिंदवाड़ा शहर को ग्रामीण से जोड़ने वाली सड़कों की हालत बेहद खस्ता है। चौराई की सड़क पर तो इस कदर कीचड़ था कि सीईओ जिला पंचायत रोहित सिंह को बैलगाड़ी पर सवार होकर जाना पड़ा। 

खबर आ रही है कि जिला पंचायत सीईओ रोहित सिंह चौराई गांव में हो रहे विकास कार्यों का निरीक्षण के लिए निकले थे। यहां प्रधानमंत्री आवास योजना के अलावा कई तरह के विकास कार्य चल रहे हैं। सरकार चाहती है कि आचार संहिता लगने से पहले विकास कार्य पूरे हो जाएं, क्योंकि चुनाव ड्यूटी में लगने के बाद अधिकारी/कर्मचारी विकास कार्यों पर ध्यान नहीं दे पाते और विकास की गति धीमी हो जाती है। 

अन्य अधिकारी कीचड़ में पैदल चले
लेकिन सीईओ रोहित सिंह का काफिला जैसे ही मुख्य मार्ग से चौराई सड़क पर आया। कार को रोकना पड़ा। सड़क पर इस कदर कीचड़ था कि कार का आगे बढ़ पाना असंभव था। इसके बाद सीईओ ने अपनी गाड़ी छोड़ी और एक बैलगाड़ी पर बैठकर गांव की ओर रवाना हुए और शेष अधिकारी पैदल पैदल कीचड़ में उनके साथ चल रहे थे। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com