BHOPAL: एसआई की बेटी और लॉ स्टूडेंट की लव स्टोरी के बाद रेप की FIR | MP NEWS

22 September 2018

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में पुलिस एसआई की बेटी ने नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी के छात्र के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज कराया है। इस कहानी की शुरूआत स्कूल टाइम के प्रेम प्रसंग से हुई और अंत पैसों के विवाद पर। बताया गया है कि आरोपी युवक ने लड़की से ज्वैलरी और कुछ नगद रुपए ले लिए थे, लड़की के एसआई पिता ने आरोपी युवक के पिता से पैसे वापस मांगे। जब पैसे वापस नहीं मिले तो एफआईआर करा दी गई। 

लड़की और आरोपी सभी स्कूल में क्लासमेट थे
बागसेवनिया टीआई उमराव सिंह के अनुसार, 20 साल की पीड़िता युवती बागसेवनिया थाना क्षेत्र में रहती है और निजी कॉलेज से ग्रेजुएशन कर चुकी है। फिलहाल वह प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रही रही है। उसके पिता पुलिस में एसआई हैं। लड़की ने थाने आकर बताया कि पूर्व में वह आरोपी एनएलआईयू के छात्र के साथ निजी स्कूल में क्लासमेट रही है। वहीं उसके साथ में आरोपी प्रशांत, नितिन, सौरभ सिंटो और पृथ्वी भी उसी के क्लासमेट थे। 

भोपाल के 2 ढाबों पर बनाए यौन संबंध
प्रतीक और युवती के बीच में स्कूल के समय से ही प्रेम प्रसंग चला आ रहा था। वह लड़की को शादी का भरोसा दिलाकर आयोध्या नगर स्थित टनाटन ढाबे तथा बिलखिरिया स्थित अतिथि ढाबे में ले जाकर कई बार बलात्कार कर चुका है। 

मां बीमार हुई तो JEWELRY गिरवी रखवा दी
इसी साल जनवरी माह में उसने लड़की को मां की बीमारी का हवाला देकर कुछ पैसों की जरूरत बताकर पांच लाख रूपये की मांग की थी। लड़की ने इतनी रकम न होने का हवाला देकर रकम देने से इनकार कर दिया था। जनवरी माह में ही आरोपी दिल्ली निजी कार्य से गया था। जहां से उसने दोबारा मां की हालत गंभीर होने का हवाला देकर तत्काल रकम देने की मांग पीडि़ता से की। पैसे नहीं होने पर ज्वैलरी देने को कहा, पीडि़ता ने घर से कुछ ज्वैलरी निकालकर आरोपी को देने की बात कह दी। आदित्य ने अपने एक दोस्त प्रशांत को लड़की से मिलकर ज्वैलरी लेने भेज दिया। पीड़ित ने ज्वैलरी प्रशांत को दे दी। प्रशांत ने साथी नितिन सौरभ व अन्य की मदद से जेवरात के मणपुरम गोल्डलोन कंपनी गिरवी रख रकम ली और आदित्य को आॅनलाइन ट्रांसफर कर दिया।

ATM CARD और पासवर्ड भी ले लिया
कुछ दिनों बाद आरोपी ने दोबारा लड़की से रकम की मांग की, पीडि़ता ने इस बार जालसाज को अपना एटीएम कार्ड और पासवर्ड दे दिया। इस बार आरोपी ने कई बार में उसका खाता खाली कर दिया। 

एसआई पिता ने पहले रकम वसूली की कोशिश की, फिर FIR
इसके बाद आरोपी ने लड़की का कॉल उठाना बंद कर दिया। उससे शादी करने की बात से भी इनकार कर दिया। शादी का दबाव बनाने पीडि़ता को जान से मारने की धमकी दी। लड़की के घर वालों को जब ज्वैलरी कम दिखाई तो उससे सख्ती से पूछताछ की गई। तब उसने पूरा घटनाक्रम माता पिता को बता दिया। सूत्रों ने बताया कि आरोपी और पीडि़ता के पिता के बीच कई दिनों तक रकम लौटाने की बात चलती रही। नकदी नहीं होने के हालात में आरोपी आदित्या ने अपने पिता के चेक एसआई को दिए। तय समय में रकम नहीं लौटाने की हालत में पीडि़ता ने पिता के कहने पर प्रकरण दर्ज कराया। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week