सुल्तानगढ़ के बाद भी नहीं जागा शिवपुरी प्रशासन, पवा में बालक डूबा, मौत | MP NEWS

19 August 2018

शिवपुरी। 15 अगस्त को सुल्तानगढ़ जलप्रपात में आई बाढ़ में 09 मौतों ने इस तरह के मौसमी पर्यटन केंद्रों पर प्रशासन की लापरवाही को उजागर करके रख दिया था। प्रशासन ने इससे कोई सबक नहीं लिया और आज पोहरी क्षेत्र में स्थित पर्यटक स्थल पवा में 14 साल के एक बालक की डूबने से मौत हो गई। 

जानकारी के अनुसार शहर के वीर सावरकर कॉलोनी में निवासरत योगेन्द्र जैन उर्फ रिंकू जैन अपने मित्रों के साथ पवा वॉटर फॉल पर सण्डे के चलते पिकनिक मनाने गए हुए थे। इनके साथ इनका 14 वर्षीय बेटा भी गया हुआ था। बताया गया है कि वह दोपहर लगभग 12 वजे शिवपुरी से निकले और जाकर वहां नहाए। 

नहाने के बाद योगेन्द्र जैन अपने दोस्तों के साथ अपने बेटे को लेकर बाहर निकल आए और दाल बाटी बनाने में जुट गए। तभी योगेन्द्र जैन का बेटा क्रिश फिर से पानी में चला गया। वहां जाकर क्रिश पानी में नहाने लगा। परंतु गहरा पानी होने के चलते क्रिश पानी में डूबने लगा। तत्काल योगेन्द्र के साथीयों ने क्रिश को बाहर निकाला। क्रिश को बाहर निकालते ही योगेन्द्र सहित उनके साथियों ने पानी निकाला। 

बताया गया है कि क्रिश को निकालते ही पानी निकलने पर क्रिश ने आंखे खोली। योगेन्द्र तत्काल क्रिश को लेकर शिवपुरी भागे। परंतु क्रिश की रास्ते में हालात बिगडने लगी। बालक को को एमएम हॉस्पीटल में भर्ती कराया गया। जहां मासूम को डॉक्टरों ने काफी देर तक प्रयास किया। कुछ देर बाद डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। बताया गया है कि क्रिश योगेन्द्र जैन के परिवार का इकलौता चिराग है।

मौके पर गोताखोर नहीं थे, प्रशासन ने कहा बालक की लापरवाही

शिवपुरी प्रशासन ने एक बार फिर अपनी जिम्मेदारियों से हाथ खींच लिया है। ऐसे स्थानों पर गोताखोर तैनात किए जाते हैं परंतु मौके पर कोई गोताखोर नहीं था। शर्मसार होने के बजाए प्रशासन ने सारा दोष बालक और उसके परिजनों पर मढ़ दिया है। कलेक्टर शिवपुरी की ओर से जारी प्रेस सूचना के अनुसार परिजन एवं बालक की लापरवाही के कारण लगभग 14 वर्षीय क्रिश पुत्र योगेन्द्र जैन निवासी वीरसावरकर पार्क शिवपुरी की पोहरी क्षेत्र में स्थित पवा झरने पर गहरे पानी में नहाते वक्त डूबने से मृत्यु हो गई है। 

ये रही कलेक्टर शिवपुरी की सफाई
अनुविभागीय दण्डाधिकारी पोहरी श्री मुकेश सिंह ने बताया कि पवा झरने (जलप्रपात) पर आए लोगों को जवान एवं कोटवारों द्वारा समझाइस एवं चेतावनी दे रहे थे कि वे गहरे पानी में न जाए एवं सावधानी एवं सर्तकता बरते। घटना के लगभग ढाई घण्टे पूर्व तक एसडीएम स्वयं उपस्थित रहकर लोगों को गहरे पानी में न जाने की समझाईस दी थी। जबकि वहां पर एक जवान एवं तीन कोटवारों द्वारा भी इस प्रकार की लोगों को समझाईस दी जा रही थी। प्रशासन द्वारा पवा पर लोगों को गहरे पानी में न जाने और सावधानी एवं सतर्कता बरतने के चेतावनी एवं मार्गदर्शक बोर्ड लगाए गए है।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week