Advertisement

व्यापमं सहित कई बड़े घोटालों में शिवराज सिंह सपरिवार शामिल: दिग्विजय सिंह | MP ELECTION NEWS



भोपाल। मध्यप्रदेश में कांग्रेस की एकता के लिए यात्रा पर निकले पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह व उनके परिवार पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने खुलकर कहा कि व्यापमं, अवैध उत्खनन सहित कई बड़े घोटालों में सीएम शिवराज सिंह और उनका परिवार शामिल है। इतना ही नहीं उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि पाकिस्तान के लिए जासूसी करने के आरोप में जिन बजरंग दल व भाजपा नेताओं को गिरफ्तार किया गया था, भाजपा सरकार उन्हे बचाने की कोशिश कर रही है। 

पटवा ने लिखकर दिया मैं ईमानदार हूं, उमा भारती कुछ साबित नहीं कर पाईं
दिग्विजय सिंह ने जबलपुर में कहा कि व्यापमं, अवैध उत्खनन तथा पोषण आहार घोटाले में वे और उनका परिवार लिप्त है। इसके अलावा ई-टेंडर घोटाले में भी भाजपा नेता लिप्त हैं। उन्होंने आगे कहा, "झूठे आरोप लगाने वालों को मैं अदालत में लेकर गया। पूर्व मुख्यमंत्री सुंदर लाल पटवा, विक्रम वर्मा व उमा भारती के खिलाफ कोर्ट में गया। स्वयं सुंदर लाल पटवा ने लिखकर दिया था कि दिग्विजय सिंह ईमानदार व निष्ठावान व्यक्ति हैं। उमा भारती 15 सालों में अभी तक आरोप के संबंध में कुछ साबित नहीं कर पाईं। मुख्यमंत्री शिवराज ने मुझे देशद्रोही कहा था तो मैं स्वयं गिरफ्तारी देने थाने पहुंच गया था। थाना प्रभारी ने लिखित में दिया कि मेरे खिलाफ कोई शिकायत व साक्ष्य नहीं है।

पाकिस्तान के कथित जासूसों को बचाने की कोशिश कर रही है भाजपा सरकार
सिंह ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री एक संवैधानिक पद होता है और ऐसे पद पर बैठे व्यक्ति ने आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा, बिना साक्ष्य के वह ऐसे गंभीर आरोप नहीं लगा सकते, इसलिए मैं गिरफ्तारी देने गया था। आईएसआई के लिए जासूसी करने के आरोप में बजरंग दल व भाजपा के जिन नेताओं को गिरफ्तार किया गया था, उनको बचाने का कार्य भाजपा सरकार कर रही है और मुझ पर देशद्रोही का आरोप लगा रही है।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com