MP BJP: पदाधिकारियों ने नहीं जुटाया, अब सीएम और मंत्री चंदा मांगेंगे | ELECTION NEWS

12 August 2018

भोपाल। मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की जड़ें काफी मजबूत रहीं हैं। यहां कार्यकर्ताओं ने उस समय करोड़ों का चंदा जुटाया जबकि भाजपा सत्ता में नहीं थी। कांग्रेस उसे अपना प्रतिस्पर्धी तक नहीं मानती थी। कार्यकर्ताओं ने अपनी निजी संपत्तियां, खेत और प्लॉट तक भाजपा को दान किए। विजयाराजे सिंधिया ने तो अपने पति की अंगूठी तक दान कर दी थी परंतु अब बात बदल गई है। शायद भाजपा के पदाधिकारियों ने चंदा जुटाने से साफ इंकार कर दिया है। अब सीएम शिवराज सिंह और उनका मंत्रीमंडल चंदे के कूपन बेचता और चंदे की पर्चियां काटता नजर आएगा। 

जो चंदा देगा वो वोट भी देगा
बताने की जरूरत नहीं कि इन दिनों भाजपा का कार्यकर्ता भी शिवराज सिंह सरकार से नाराज है। माना जा रहा है कि इस अभियान मकसद जमीनी कार्यकर्ताओं को फिर से सक्रिय करना है। रणनीतिकारों का मानना है कि जो कार्यकर्ता चंदा देगा वो सक्रिय भी हो जाएगा। पार्टी इसके लिए 500, 1000 और दो हजार के कूपने बेचेगी। इस अभियान में मुख्यमंत्री से लेकर केंद्रीय मंत्री आम लोगों से चंदा लेकर लोगों को कूपन की पर्ची देंगे। भाजपा ने इस अभियान का नाम अर्थ संग्रह रखा है।

पर्चियां काटेंगे मुख्यमंत्री
सीएम शिवराज सिंह कहते हैं कि उन्होंने 15 सालों में करोड़ों लोगों का भला किया है। यदि दावे में दम है तो उनकी अपील पर चंदा जमा हो जाना चाहिए। जैसे कि पीएम नरेंद्र मोदी की अपील पर हो जाता है लेकिन यहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह समेत सभी मंत्री एवं प्रमुख पदाधिकारी इस अभियान में जुटेंगे। समिति के प्रदेश संयोजक कृष्णमुरारी मोघे ने चंदा वसूली को लेकर कार्यक्रम जारी कर दिया है। प्रदेश भर में एक साथ अभियान शुरू किया जा रहा है। सोमवार से सभी 56 संगठनात्मक जिलों में शुरू होगा। पांच सौ, 1 हजार और 2 हजार रूपए का अंशदान स्वीकार किया जाएगा।

ये दिग्गज नेता जाएंगे चंदा मांगने
मोघे ने बताया कि प्रदेश नेतृत्व ने जिलों में दो-दो प्रतिनिधियों की ड्यूटी लगाई है। ये प्रतिनिधि 12 अगस्त तक जिलों में पहुंचेंगे। अर्थसंग्रह के दो प्रतिनिधियों में केन्द्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत, मंत्री पारस जैन, केन्द्रीय मंत्री वीरेन्द्र खटीक, मंत्री ललिता यादव, प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, कैलाश विजयवर्गीय, नंदकुमार सिंह चौहान, मंत्री अंतरसिंह आर्य, सत्यनारायण जटिया, अनूप मिश्रा सांसद, मंत्री माया सिंह, मंत्री रूस्तम सिंह, मंत्री जयभानसिंह पवैया, मंत्री नरोत्तम मिश्रा, मंत्री लालसिंह आर्य, मंत्री जयंत मलैया, मंत्री भूपेन्द्र सिंह, मंत्री गोपाल भार्गव, सांसद प्रहलाद पटेल, मंत्री कुसुम मेहदेले, मंत्री राजेन्द्र शुक्ल,मंत्री शरद जैन, मंत्री गौरीशंकर बिसेन, जालम सिंह पटेल, लता एलकर, उमाशंकर गुप्ता, डॉ. हितेष वाजपेयी, रामपाल सिंह, विजेन्द्रसिंह सिसोदिया, बाबूलाल गौर, अर्चना चिटनीस, विजय शाह समेत एक सैंकड़ा से ज्यादा प्रदेश प्रतिनिधि मनोनीत किए गए हैं।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week