LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




LIC ने बंद कर दीं दर्जनों पॉलिसी, जानिए होल्डर्स क्या करें | BUSINESS NEWS

23 August 2018

नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी इंश्योरेंस कंपनी एलआईसी ने दर्जनों बीमा एवं निवेश योजनाएं बंद कर दीं हैं। कंपनी का कहना है कि लगातार गिर रहीं ब्याज दरों के कारण यह फैसला लेना पड़ा। अब सवाल यह है कि जिन उपभोक्ताओं के पास ये पॉलिसियां हैं, उनका क्या होगा। 

ये पॉलिसी हो चुकी हैं बंद-
एलआईसी की वेबसाइट के अनुसार अब कोई भी निवेशक, जीवन सुगम, जीवन वैभव (एकल प्रीमियम बंदोबस्ती आश्वासन योजना), जीवन वृद्धि, फॉर्च्यून प्लस प्लान, वेल्थ प्लस, मार्केट प्लंस - I, प्रॉफिट प्लस, मनी प्लस I, चाइल्डफ फॉर्च्यून प्लस, जीवन साथी प्लस, समृद्धि प्लस, पेंशन प्लस, जीवन निधि, नव जीवन धारा-I, नयी जीवन सुरक्षा - I, हेल्थ प्लस, वेल्थ प्लस, प्रॉफिट प्लस, मनी प्लस I, चाइल्डय फॉर्च्यून प्लस, जीवन साथी प्लस, समूह सुपर एनुएशन प्लस, प्रॉफिट प्लस, बीमा खाता 1, बीमा खाता 2, सीडीए इंडोवमेंट वेस्टिंग 21 पर, सीडीए इंडोवमेंट वेस्टिंग 18, जीवन मित्र (तिगुनी सुरक्षा), धन वापसी योजना-25 वर्ष, जीवन मित्र (दुगुनी सुरक्षा), जीवन प्रमुख आजीवन पॉलिसी, आजीवन पॉलिसी-सीमित भुगतान, द्विवर्षीय अस्थायी बीमा पॉलिसी, जीवन मित्र (दोगुनी सुरक्षा बंदोबस्ती योजना), जीवन अमृत, जीवन सुरभि - 25 वर्ष

जीवन सुरभि - 15 वर्ष, आजीवन पॉलिसी एकल प्रीमियम, जीवन अनुराग, चाइल्ड फ्युचर योजना, चाइल्ड करिअर योजना , जीवन साथी, जीवन श्री- I, जीवन अंकुर, बन्दोबस्ती बीमा पॉलिसी (सीमित भुगतान), विवाह बंदोबस्ती अथवा शैक्षणिक, अनमोल जीवन-I, वार्षिकी योजना, जीवन छाया, कोमल जीवन, जीवन किशोर, धन वापसी योजना-20 वर्ष, जीवन तरंग, नयी बीमा गोल्ड, बन्दोबस्ती बीमा पॉलिसी, बीमा निवेश २००५, जीवन सरल, जीवन आनंद, बीमा बचत, जीवन आधार, जीवन विश्वास, जीवन आनंद, जीवन दीप, जीवन मंगल, जीवन मधुर, इंडोवमेंट प्लस, नई जीवन निधि, अमूल्य जीवन - I, फ्लेक्सी प्लस, जीवन सुरभि - 20 वर्ष, जीवन भारती 1, हेल्थ प्रोटेक्शन प्लस, परिवर्तनशील अवधि बीमा पॉलिसी, एलआईसी की जीवन शगुन योजना, वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना में निवेश नहीं कर सकता है।

जिनके पास पॉलिसी हैं वो क्या करें
अगर आपकी ओर से खरीदी हुई पॉलिसी बंद हो गई है तो ऐसे में घबराने की जरुरत नहीं है। पॉलिसी की मैच्योरिटी पर पॉलिसी बॉन्ड में बताई गई सभी सुविधाएं मिल जाती हैं। कंपनी की ओर से पॉलिसी उस स्थिति में बंद की जाती है जब उसकी आमदनी घट जाती है।

एजेंट ने अगर बेच दी है गलत पॉलिसी तो क्या करें
फाइनेंशियल प्लानर जितेंद्र सोलंकी का मानना है कि अगर आपको गलत पॉलिसी बेच दी गई है तो इंश्योरेंस कंपनी की शाखा में जाकर शिकायत दर्ज करा सकते हैं। अगर कंपनी आपकी शिकायत पर कोई जवाब नहीं देती है तो ओम्बड्समैन (लोकपाल) या कंज्यूमर कोर्ट में शिकायत लेकर जाएं। वहीं, उन्होंने बताया कि अगर आप गलत पॉलिसी खरीद से बचना चाहतें है तो कोशिश करें कि फिजिकल फॉर्म को अपने हाथ से भरें। यह एजेंट को न भरने दें।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->