Loading...

सुलझ गई प्रॉपर्टी डीलर उमाशंकर की मर्डर मिस्ट्री, चौंकाने वाला खुलासा हुआ | JABALPUR MP NEWS

जबलपुर। 14 अगस्त की रात थाना विजय नगर पुलिस को सूचना मिली कि जॉय स्कूल के पीछे रहने वाले प्रापर्टी डीलर उमाशंकर शर्मा की अज्ञात व्यक्ति ने गोली मारकर हत्या कर दी और मौके से फरार हो गया। यह मामला सनसनीखेज था क्यों​कि घर में किसी ने गोली चलने की आवाज तक नहीं सुनी थी। आसपास के लोगोें ने भी किसी को आते जाते नहीं देखा। ना ही गोली चलने की आवाज सुनी। यह तो स्पष्ट हो गया था कि मर्डर पहले से प्लान था और हत्यारे को घर का कौना कौना पता था परंतु सवाल यह था कि हत्या किसने और क्यों की होगी। 

पुलिस की जांच के बाद जो खुलासा हुआ वो चौकाने वाला है। पुलिस ने दावा किया है कि उमाशंकर शर्मा की साली ने ही उसकी हत्या की थी। पुलिस ने बताया कि उमाशंकर शर्मा ने अपनी पत्नी की बहन ज्योति से अवैध संबंध बना लिए थे। वो जबर्दस्ती ज्योति को अपने घर में रखता था और शारीरिक संबंध बनाने के लिए मजबूर करता था। इतना ही नहीं वो जब भी घर से बाहर जाना चाहती थी तो उमाशंकर उसे कही भी आने जाने नहीं देता था। 

इसलिए किया गया मर्डर

इस बीच ज्योति का लखनऊ निवासी अंकित यादव से अफेयर हो गया। एक दिन वो उमाशंकर के घर से भाग गई, लेकिन उमाशंकर ने उसका पता लगवाकर उसे जबरदस्ती दौबारा अपने घर ले आया। बस इसी के बाद ज्योति ने उमाशंकर का मर्डर प्लान किया। उसने अपने प्रेमी अंकित यादव और अंकित के दोस्त गोलू को भी इस प्लान में शामिल कर लिया। 

इस तरह की हत्या

घटना वाले दिन 14 अगस्त की दरमियानी रात ज्योति ने उमाशंकर की शराब में नींद की गोलिया देकर उसे सुला दिया। छत पर अंकित यादव पहले से ही मौजूद था। वो घर के अंदर आया। बेहोशी में सो रहे उमाशंकर के मुंह पर तकिया रखकर उसके सिर में गोली मार दी गई। उमाशंकर की तत्काल मौत हो गई। इसके बाद अंकित छत के रास्ते वापस चला गया और ज्योति अपनी दीदी के पास जाकर सो गई। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com