Advertisement

कांवड़ यात्रा मंडीदीप पहुंची, सोमवार को भोपाल में गूंजेगा 'हर हर महादेव' | BHOPAL NEWS



मंडीदीप/औबेदुल्लागंज/भोपाल। सामाजिक संगठन कर्मश्री की 11वीं कांवडयात्रा में शामिल हजारों कांवड़िए पूरे यात्रा मार्ग में भोले की भक्ति में चूर होकर, भजनों की धुन पर नाचते गाते, रविवार सांय मंडीदीप पहुंच गए हैं। यहां कांवड़यात्रा का दूसरा पड़ाव हैं। गौरतलब है कि बरखेड़ा-उमरिया में रात्री विश्राम उपरांत रविवार सुबह 9ः30 बजे कांवड़यात्रा पुनः प्रारंभ हुई। उमरिया गुरूद्वारे में मत्था टेककर विशेष अरदास कराई गई। यहां कांवड़ियों का गुरूद्वारा प्रबधंक कमेटी की ओर से स्वागत किया गया। ओबेदुल्लगंज से लेकर मंडीदीप तक राह में सैकड़ों जगह स्थानीय जनप्रतिनिधियों, जनसंगठनों, नागरिकों ने कांवड़ियों का पुष्पवर्षा कर स्वागत किया। जगह-जगह कांवड़ियोे के जलपान की व्यवस्था की गई थी। सांय 6 बजे खबर लिखे जाने तक कांवड़यात्रा अपने दूसरे पड़ाव मंडीदीप तक पहुंच गई है। 

सोमवार को भोपाल की सड़कों से गुजरेगी कांवड़ यात्रा

श्रावण सोमवार को कांवड़यात्रा भोपाल में प्रवेश करेगी। बैरागढ़ चीचली के रास्ते में भोपाल में प्रवेश कर कांवड़यात्रा राजधानी के विभिन्न मार्गों से भ्रमण करते हुए देर सांयकाल गुफा मंदिर पहुंच कर कांवड़ में लाए नर्मदाजल से भगवान के आसुतोष स्वरूप का अभिषेक करेंगे। सोमवार को सुबह मंडीदीप से रानी पिपलिया, सुरैया नगर, बंदोरी, अमरावद कलां, शोभापुर, पचामा, गोल, कालापानी, बोरदा, इनायतपुर, बैरागढ़ चिचली, गेहूंखेड़ा, नयापुरा, ललितानगर ,शिवमंदिर, सर्वधर्म,बीमाकुंज,महाबली,मंदाकिनी, सर्वधर्म पुल, चूनाभट्टी नहर, चूनाभट्टी, कोलार तिराहा, निराला भवन, एकांत पार्क,हबीबगंज नाका, विटठल मार्केट, रविशंकर मार्केट, उत्कृष्ट विद्यालय, सुभाष चैराहा, 7 नंबर,  बीजेपी आफिस, मुखर्जी चैराहा, मानसरोवर, प्रगती पेट्रोल पंप, अंबेडकर चैराहा, गुप्त चैराहा,राजेंद्र प्रसाद चैराहा, पर्यावास भवन, जेल पहाड़ी, जिला न्यायालय, पीएचक्यू, शास्त्री चैराहा, राजभवन, केएन प्रधान चैराहा, रविंद्र भवन, पॉलीटेक्निक चैराहा, स्वर्णकार चैराहा, राॅयल मार्केट, लालघाटी आदि मार्गों से होती हुई अपरान्ह लगभग 5 बजे गुफा मंदिर पहुंचेगी जहां यात्रा में शामिल सभी कावंडियों द्वारा कांवड़ में लाए गए नर्मदा जल से शिव का अभिषेक किया जाएगा। उन्होने बताया कि इस पूरी यात्रा मे तीन दिनों के दौरान कांवड़िए 111 किमी पैदल चलकर कांवड़यात्रा पूर्ण करेंगे।

जो चल सकता है साथ चले, जो नहीं चल सकता दर्शन करे: रामेश्वर शर्मा
सोमवार को कांवड़यात्रा भोपाल में आपके घर-आंगन के सामने से निकलेगी। श्रावणमास में कांवड़ियों की सेवा-स्वागत से भी भगवान भोलेनाथ प्रसन्न होते हैं। अतः जो कांवड़यात्रा में गुफा मंदिर तक साथ चल सकता है उसे साथ चलना चाहिए, जो नहीं चल सकता तो उसे कांवड़ियों का स्वागत और दर्शन ही कर लेना चाहिए। कांवड़यात्रा के संयोजक-विधायक रामेश्वर शर्मा ने भोपाल वासियों से कांवड़ियों के स्वागत का आग्रह करते हुए उक्त विचार व्यक्त किए हैं। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com