ATM में कैमरा डिवाइस लगाकर जालसाजी करने वाले दो बदमाश गिरफ्तार | INDORE NEWS

10 August 2018

इंदौर: साइबर क्राइम करने वाली अंतरराष्ट्रीय गैंग के दो बदमाश को इंदौर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। DIG हरिनारायणचारी मिश्रा को कोलकाता क्राइम ब्रांच से सूचना मिली थी कि यूरोपियन कंट्री के रोमानिया निवासी दो बदमाश लखनऊ से मुंबई की ओर जा रहे है। दोनों बदमाश मोस्ट वांटेड हैं और इनकी कई शहरों की पुलिस काे तलाश है। सूचना मिलने पर डीआईजी ने क्राइम ब्रांच एसपी अमरेन्द्र सिंह को इसकी जानकारी दी। एसपी अपनी टीम लेकर हाईवे पर बदमाशों को पकड़ने के लिए निकल पड़े। टीम ने राऊ-खलघाट फोरलेन पर घेराबंदी की और संदिग्ध कार को मानपुर क्षेत्र में घेर लिया और रोमानिया के रहने वाले बदमाश एंड्रियन और कानसेटिन को गिरफ्त में ले लिया। पुलिस पूछताछ में पता चला की वे एटीएम बूथ पर जालसाजी की वारदातें करने में माहिर है और उन्होंने करोड़ों रुपए की वारदातों को अंजाम दिया है। 

दिल्ली-मुंबई सहित कई शहरों में की वारदात

रोमानिया के बदमाशों ने दिल्ली और मुंबई सहित देश के कई शहराें में साइबर क्राइम की कई घटनाओं को अंजाम दिया है। यह लोग एक साल पहले वीजा लेकर भारत आए थे और यहां आकर लोगों कार्ड का क्लोन बनाकर करोड़ों रुपए उड़ा लिए। जनवरी 2018 से लेकर अब तक वे देश के 8 शहरों के एटीएम बूथों पर जालसाजी की 2.5 हजार से अधिक वारदात कर चुके है।

बदमाशों ने पुलिस को बताया कि वे एटीएम बूथ में कैमरायुक्त डिवाइस लगा देते थे। आम जनता को इसकी जरा भी भनक नहीं लगती थी कि एटीएम बूथ में कैमरायुक्त डिवाइस लगा है। जब भी कोई व्यक्ति एटीएम बूथ में अपना कार्ड स्वैप कर पैसा निकालता था तो उसके कार्ड का नंबर, कोड और अन्य जानकारियां कैमरे में रिकार्ड हो जाती थी। बाद में बदमाश उस जानकारी के आधार पर कार्ड का क्लोन तैयार कर लेते थे और लोगाें के खातों से पैसा निकाल लेते थे।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week