मात्र 20 रुपए में: अस्थमा खत्म, मोटापा गायब, फैंफड़े के कैंसर से सुरक्षा | DESI HEALTH TIPS

10 August 2018

यदि आप मात्र 20 रुपए प्रतिदिन अपनी सेहत के लिए खर्च करने की हिम्मत रखते हैं तो हम आपको बताते हैं कि इससे ना केवल अस्थमा का रोग खत्म हो जाएगा बल्कि मोटापा भी गायब हो जाएगा और फिर कभी लौटकर नहीं आएगा। यदि फैंफड़ों में कैंसर पनप रहा है तो वह भी खत्म हो जाएगा। यदि फैंफड़े कमजोर हैं तो उन्हे ताकत मिलेगी ओर फैंफड़ों का कैंसर कभी नहीं होगा। इसके लिए आपको हमारी कंपनी की 80 प्रतिशत डिस्काउंट वाली कोई दवाई नहीं खानी। केवल एक सेबफल खाना है लेकिन प्रतिदिन सुबह नाश्ते में 

सेब में विटामिन ए, विटामिन सी, पोटेशियम, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट्स मौजूद होता है। वहीं एक नॉर्मल साइज के सेब में करीबन 95 कैलोरी मौजूद होती है। सभी जानते हैं सेब सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है लेकिन आपको सेब कितना फायदा पहुंचाएगा, ये इस बात पर निर्भर करता है कि आप इसे किस तरह खाते हैं।

क्या आप सेब को छिलके के साथ खाते हैं या फिर उसे निकालकर? बता दें, कुछ लोग पेस्टिसाइड्स के डर से सेब के छिलके को निकालकर खाते हैं लेकिन क्या आपने कभी ये जानने की कोशिश की है कि सेब को किस तरह खाना ज्यादा फायदेमंद होता है और क्यों...

एक सेब के छिलके में लगभग 4.4 ग्राम फाइबर होता है। सेब के छिलके में सोल्यूबल (घुलनशील) और इंसोल्यूबल (अघुलनशील) दोनों तरह के फाइबर पाए जाते हैं, जिसमें 77 फीसदी इंसोल्यूबल फाइबर होता है। सेब के छिलके में मौजूद ये फाइबर कब्ज की समस्या को दूर करने में मददगार साबित होता है।

इसके अलावा सोल्यूबल फाइबर ब्लड शुगर के स्तर को नॉर्मल रखता है। शरीर में न्यूट्रिएंट्स के एब्जोर्प्शन को स्थिर रखता है। साथ ही कोलेस्ट्रोल को भी कम करने में कारगर साबित होता है।

विटामिन- एक सेब के छिलके में 8.4 मिलीग्राम विटामिन-सी और 29.4 माइक्रोग्राम विटामिन-ए पाया जाता है लेकिन सेब का छिलका निकालने पर उसमें केवल 6.4 मिलीग्राम विटामिन-सी और 18.3 ग्राम विटामिन-ए ही रह जाता है।

बता दें, पूरे सेब में मौजूद विटामिन-सी की लगभग आधी मात्रा इसके छिलके में ही होती है। इसलिए सेब को हमेशा छिलके के साथ ही खाएं।

कैंसर से बचाव- 
साल 2007 में सामने आई 'कॉर्नेल यूनिवर्सिटी' की एक स्टडी की रिपोर्ट के मुताबिक, सेब के छिलके में triterpenoids कंपाउंड पाए जाते हैं। ये कंपाउंड कैंसर पैदा करने वाले सेल्स को नष्ट कर देते हैं। 'अमेरिकन इंस्टीट्यूट फॉर कैंसर रिसर्च' के मुताबिक, सेब में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं, जो फेफड़ों में कैंसर के खतरे को कम कर देते हैं।

सांस की समस्या दूर- 
एक स्टडी की रिपोर्ट में बताया गया था कि जो लोग एक हफ्ते में लगभग 5 या इससे ज्यादा सेब खाते हैं उनके फेफड़े ज्यादा अच्छी तरह से काम करते हैं। साथ ही इससे अस्थमा होने की संभावना भी बेहद कम हो जाती है।

वजन कम होना- 
जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं, उन्हें छिलकों के साथ ही सेब खाना चाहिए। दरअसल, सेब के छिलके में अर्सोलिक एसिड पाया जाता है। ये मांसपेशियों पर मौजूद फैट को बढ़ाता है, जो कैलोरी को कम कर के मोटापे को दूर करने में मददगार साबित होता है।

सेब के छिलके के फायदे- 
यूनिवर्सिटी ऑफ इलिनोइस के मुताबिक, सेब के छिलकों में पोटेशियम, कैल्शियम, फोलेट, आयरन और फास्फोरस मौजूद होता है। ये सभी मिनरल्स हड्डियों को मजबूत करने के साथ-साथ शरीर को अलग-अलग तरह से फायदा पहुंचाते हैं।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week