15 जिलों में आफत की बारिश का अलर्ट, पूरी शिवपुरी में मूसलाधार | MP NEWS

23 August 2018

भोपाल। मौसम विभाग ने मध्यप्रदेश के 15 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। गुरूवार को ग्वालियर संभाग के शिवपुरी जिले में जबर्दस्त बारिश हुई। पूरे जिले में बारिश जारी है और यह शुक्रवार को भी बने रहने की संभावना है। इसके अलावा ग्वालियर-चंबल संभाग के कई इलाकों में काले बादल छाए हुए हैं। लगातार बारिश हो रही है। सिंध नदी उफान पर है। मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटे में ग्वालियर, दतिया, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, भिंड, मुरैना, रतलाम, अलीराजपुर, झाबुआ, धार, बड़वानी, खंडवा, खरगौन एवं बुरहानपुर जिलों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। ग्वालियर में आज दिन में 45.2 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। बारिश से एक बार फिर शहर में जलभराव की स्थिति हो गई।

शिवपुरी में बारिश और बिजली का कर्फ्यू
शिवपुरी में गुरुवार सुबह से ही घने बादल छाए हुए थे। साढ़े दस बजे से शुरू हुआ मूसलाधार बारिश का सिलसिला देर शाम तक रुक रुककर जारी रहा। शहर में जलभराव की स्थिति हो गई है। निचली बस्तियों में पानी भर गया। पानी का बहाव इतना तेज है करीब डेढ़-डेढ़ फीट पानी सड़कों पर बह रहा है। तेज बारिश की वजह से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। भारी बारिश के चलते बाजार में भी सन्नाटा पसरा रहा। आधे से ज्यादा शहर में बिजली नहीं है। 

आठ संभागों में हुई बारिश: 
मौसम विभाग के अनुसार बीते 24 घंटों में उज्जैन, सागर, जबलपुर, ग्वालियर, इंदौर, भोपाल, चंबल और होशंगाबाद संभाग के जिलों में अच्छी बारिश दर्ज की गई है। इधर भोपाल में दोपहर बाद हल्की बारिश दर्ज की गई हैं। लगातार हो रही बारिश से राजधानी के तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है। गुरुवार को शहर का अधिकतम तापमान 24.3 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं न्यूतम तापमान 23 डिग्री रहा। 

कोलारस में सबसे ज्यादा बारिश: 
भू- अभिलेख द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक इस साल 22 अगस्त तक कोलारस में सबसे ज्यादा 92 फीसदी बारिश हो चुकी है। जबकि सबसे कम खनियाधाना में 44 फीसदी बारिश हुई है। कोलारस के बाद नरवर में 91 फीसदी, बदरवास में 82 फीसदी, शिवपुरी में 78 फीसदी, करैरा व बैराड़ में 76 फीसदी हो चुकी है। इसी तरह पोहरी में 58 फीसदी, पिछोर में 46 फीसदी बारिश हुई है। शिवपुरी शहर में मंगलवार को बारिश नहीं हुई थी। लेकिन बुधवार की देर शाम करीब 15 से 20 मिनट तक तेज बारिश हुई। इसके अलावा जिले के कोलारस, बामौरकलां, सतनवाड़ा, छर्च, गोपालपुर सहित अन्य इलाकों में भी बारिश होने की खबर है। 

अशोकनगर: राजघाट बांध के 18 में से 16 गेट खुले: 
अशोकनगर में राजघाट बांध का जलस्तर 369.5 मीटर होते ही सीजन में पहली बार बांध के 12 गेट खोल दिए गए। दोपहर तक ऊपरी क्षेत्रों में हुई बारिश के बाद बेतवा का जलस्तर 370 मीटर से अधिक होते ही सुबह 10.30 बजे फिर 4 गेट खोलकर 35 लाख 20 हजार लीटर पानी छोड़ा गया जिससे राजघाट पुल के ऊपर से पानी निकलने लगा। इससे उप्र से चंदेरी का संपर्क 12 घंटे कटा हुअा है। बांध के गेट खुलते ही राजघाट विद्युत गृह योजना की दो यूनिट शुरू हो जाएंगी जिससे 21 मेगावाट का विद्युत उत्पादन शुरू हो गया। डेम के 18 में से 16 गेट खोले जा चुके हैं।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week