प्रेमिका ने की सॉरी बोलने में 10 मिनट की देरी, प्रेमी ने किया SUCIDE

02 August 2018

JABALPUR: पूरी जिंदगी ऐसे नहीं रह सकता, जाना होगा। यह बातें गर्लफ्रेंड से मैसेजर पर चैटिंग करते हुए हर्ष पांडे ने लिखी और फिर मोबाइल घर में रखकर चला गया। युवती ने उसे सॉरी बोला, लेकिन इसमें कुछ मिनट की देरी कर दी। तब तक हर्ष अपार्टमेंट से छलांग लगाने जा चुका था। युवती ने उसे लिखकर पूछा- जाना होगा का क्या मतलब, वापस आओ। लेकिन वह वापस नहीं आया। 

हर्ष ने खुदकुशी से चंद मिनट पहले ये बातें युवती के मैसेंजर पर पोस्ट की थी। दोनों के बीच चैटिंग का यह अंश पुलिस को युवती के मोबाइल से मिला है। बुधवार को हर्ष की मौत के मामले का खुलासा करते हुए एसपी अमित सिंह ने बदलते परिवेश में बच्चों पर युवा अवस्था के दौरान ज्यादा ध्यान देने की अपील भी अभिभावकों से की है। एसपी ने कहा कि परिजन अपने बच्चों से बातचीत कर उनकी बातों को समझें, तो मामला बिगड़ने के पहले सुलझ सकता है। हर्ष ने पौने 7 बजे आखिरी बार चैटिंग की थी। इसके बाद वह मोबाइल घर में रखकर चला गया। इसके 11 मिनट बाद युवती ने उसे सॉरी बोला, लेकिन तब तक हर्ष भूमिका अपार्टमेंट पहुंच चुका था।

हर्ष पढ़ाई में कमजोर था। वह 11वीं तक ही पढ़ा था। उसके स्कूल के साथियों ने बताया कि हर्ष भावुक प्रवृत्ति का था। वह उस युवती से बहुत प्यार करता था। हर्ष जब 8वीं में था, तो उसकी फ्रेंड 9वीं में थी। वर्ष 2013 में युवती ने स्कूल छोड़ दिया था। वह अभी इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ती है। लेकिन दोनों में मोबाइल पर लगातार बात होती थी। इसकी जानकारी युवती के परिजन को लग गई थी। जिसके बाद हर्ष युवती से बात करने के लिए उसकी सहेलियों के फोन और सोशल मीडिया का सहारा लेता था। यह बातचीत भी युवती अपनी सहेलियों के नंबर से ही करती थी। युवती की आर्थिक स्थिति कमजोर है। उसकी पढ़ाई स्कॉलरशिप के माध्यम से हो रही है।

हर्ष युवती के कहीं भी आने-जाने पर सवाल करता था। इससे वह परेशान होने लगी थी। युवती के कॉलेज में 21 जुलाई को फ्रेशर पार्टी थी। जिसमें उसने अपने एक साथी के साथ फोटो खिंचवाई और उसे सोशल मीडिया पर शेयर किया। यह देख हर्ष नाराज हो गया। हर्ष ने अपने मोबाइल से पूरे मैसेज डिलीट कर दिए। लेकिन युवती ने अपनी सहेली के मोबाइल से मैसेज डिलीट नहीं किए। जिससे मामले का खुलासा हो गया।

हर्ष के घर के पास भूमिका अपार्टमेंट है। इस अपार्टमेंट में वह शिक्षक विपिन तिवारी के पास तीन साल पहले पढ़ने जाता था। जिससे उसे अपार्टमेंट के बारे में जानकारी थी। वह अपार्टमेंट में लगी लिफ्ट से पांचवीं मंजिल तक गया और वहां से नीचे कूद गया।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week