Loading...

शिवराज के युवराज ने कहा: अपना जनाधार बनाकर ही चुनाव लडूंगा | MP NEWS

भोपाल। भोपाल के वीआईपी इलाकों में 65 रुपए प्रतिलीटर वाला SUDHAMRUT सप्लाई कर रहे, कार्तिकेय सिंह चौहान (KARTIKEY SINGH CHOUHAN) चाहते हैं कि राजनीति में उनकी अपनी पहचान बने। जिस दिन लोग उन्हे कार्तिकेय के नाम से जानने लगेंगे और उनके पास अपना जनाधार होगा उस दिन चुनाव लड़ेंगे। फिलहाल कार्तिकेय सिंह को सारी दुनिया सीएम शिवराज सिंह के पुत्र के तौर पर ही जानते हैं। कार्तिकेय ने भोपाल के बिट्टन मार्केट इलाके में एक फूल की दुकान भी खोली थी। कार्तिकेय ने अपना यह संकल्प राजनीति में परिवारवाद केे प्रश्न पर सार्वजनिक किया। बता दें कि भाजपा में इन दिनों नेतापुत्रों को टिकट का अभियान शुरू हो चुका है। इससे पहले एक बयान में कार्तिकेय ने कहा था कि 'मैं दूध का धंधा करता हूं, चुनाव नहीं लडूंगा।'

अभी तो मैं ​वकालत करूंगा: KARTIKEY SINGH CHOUHAN

परिवारवाद को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बेटे कार्तिकेय सिंह चौहान ने कहा है कि जो चांदी की चम्मच लेकर पैदा हुए हैं, उन्हें टिकट मिलता है। यही परिवारवाद है परंतु यदि व्यक्ति का जनाधार है तो वह उसकी मेहनत मानी जाएगी। जहां तक मेरा सवाल है, तो अभी तो मेरी उम्र ही कम है। अभी वकालत करुंगा। जब मेरी पहचान मुख्यमंत्री पुत्र की नहीं, बल्कि कार्तिकेय चौहान के रूप में होगी, मेरा खुद का जनाधार होगा और जनता योग्य समझेगी तो टिकट का सोचूंगा। कार्तिकेय सिंह सागर में प्रतिभा एवं सामाजिक कार्यकर्ता सम्मान समारोह में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए थे। 

घर पर पिताजी से भी राजनीति की ही बात होती है

एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मैं भाजपा का कार्यकर्ता होने के नाते सक्रिय हूं। जहां पार्टी को जरूरत होगी, वहां काम करुंगा। कार्तिकेय ने बताया कि मेरी पिताजी से घर पर राजनैतिक चर्चा नहीं होती, वो वैसे ही प्रदेश की जनता के कारण थोड़ा सा ही समय देते हैं। ऐसे में उस समय घर की ही बातें हो पाती हैं। 
सूत्रों का कहना है कि सीएम शिवराज सिंह चौहान चाहते हैं कि कार्तिकेय सिंह राजनीति में उनका उत्तराधिकारी बने। वो चाहते हैं कि जिस तरह से वो अपने भाषण से जनता को सम्मोहित कर लेते हैं, ऐसा ही कुछ कार्तिकेय भी करे। यही कारण है कि बार बार कार्तिकेय को राजनीति में एक्टिव किया जाता है। यह तीसरी बार है जब कार्तिकेय को सक्रिय राजनीति में भेजा गया है। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com