अतिथि शिक्षकों ने भर्ती आदेश की प्रतियां जलाईं | MP NEWS

10 July 2018

सीधी। कल अतिथि शिक्षकों की बैठक पूजा पार्क सीधी मे संपन्न हुई। जिसमे सरकार द्वारा जारी आदेश क्रमांक एफ 44-13/2017/20-2 दिनाँक 07/07/2018 के बारे चर्चा करते हुए अतिथि शिक्षकों ने भारी नराजगी जताई व जारी आदेशों की प्रतियों की होली जलाकर अपना विरोध जताया। इसके बाद सभी अतिथि शिक्षकों ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौपा कर जारी आदेश को निेरस्त कर पूर्व मे कार्यरत अतिथि शिक्षको को यथावत रखने हेतु आदेश जारी करवाने की अपील की। अतिथि शिक्षको ने अल्टीमेटम दिया है कि यदि सरकार उनकी मागो को नही मानती तो संघ अब आमरण अनशन करेगा।

जिला अध्यक्ष रविकांत गुप्ता आदेश के प्रति चिंता जाहिर करते हुए कहा कि ये सरकार पूरी तरह से तानाशाह हो गई है ।10 वर्षों से कार्य कर रहे अतिथि शिक्षको को उनके अनुभव का कोई लाभ नही दिया जा रहा है। जबकि अन्य विभागों मे सभी को अनुभव का लाभ मिलता है लेकिन अतिथि शिक्षको को अतिथि शिक्षक की भर्ती मे उनके अनुभव का कोई लाभ नही दिया जा रहा है। जबकि कई बार उच्च न्यायालय जबलपुर द्वारा आदेश जारी किया जा चुका है कि अतिथि शिक्षको को यथावत रखा जाय जब तक कि स्थायी शिक्षको की भर्ती न हो जाय।सरकार लगातार अतिथि शिक्षको के साथ धोखा करती आयी है और वही जारी आदेश मे भी किया गया इस आदेश से कई वर्षों से सेवा दे रहे अतिथि शिक्षक बाहर हो जायेगे क्योकि अतिथि शिक्षको की नियुक्ति आनलाइन के माध्यम से जारी स्कोर बोर्ड के तहत होगी लेकिन उसमे अतिथि शिक्षको के अनुभव का कोई उल्लेख नही है। जबकि रजिट्रेशन कराते समय अनुभव को फीड कराया गया था। 

बता दे कि शासकीय विद्यालयों में स्वीकृत शैक्षणिक पदों के अनुरूप रिक्त पदों को अतिथि शिक्षकों से भरने के लिए स्कूल शिक्षा विभाग ने  आदेश 7 जुलाई को  जारी किया है। आदेश में अतिथि शिक्षकों की भर्ती की तारीख 14 जुलाई से दी गई है।   स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जारी किए गए इस आदेश से प्राथमिक व माध्यमिक स्कूलो मे स्कोर बोर्ड के माध्यम से आफलाइन व हायर सेकेंडरी व हाई स्कूल मे आनलाइन भर्ती की जायेगी। इस आदेश को लेकर  अतिथि शिक्षको मे भारी निराशा व्याप्त है। आज की बैठक मे मुख्य रूप से राकेश कुमार मिश्रा शशांक द्विवेदी संदीप मिश्रा दशरथ साहू रामकठिन किरन गुप्ता निर्मला सिह सुनीर सिह मोहम्मद युसुफ बैजनाथ आदि उपस्थित रहे।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week