LIC: पहले से ही 18 BANKS में घाटा उठा रही है, IDBI का बोझ तोड़ देगा | BUSINESS NEWS

05 July 2018

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी सरकार ने भारतीय जीवन बीमा निगम (life insurance corporation of india) को संकटग्रस्त IDBI BANK में 51 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने का आदेश दिया है। एलआईसी के कर्मचारी भी इसका विरोध कर रहे हैं। एलआईसी के INVESTORS अपने INVESTMENT को लेकर परेशान हैं। यहां बताना जरूरी है कि एलआईसी ने 21 सार्वजनिक बैंकों में अपने निवेशकों का पैसा INVEST कर रखा है। इनमें से सिर्फ 3 बैकों से ही फायदा मिल रहा है। बाकी 18 बैंकों में घाटा चल रहा है। इनमें से 6 तो ऐसे हैं जिनमें 30 से 50 प्रतिशत तक का घाटा चल रहा है। 

देश की सबसे बड़ी बीमा कम्पनी एलआईसी को जिन 3 बैंकों में निवेश पर फायदा हो रहा है उनमें INDIAN BANK (शेयर भाव 163 प्रतिशत अधिक), VIJAYA BANK (43.4 प्रतिशत) और STATE BANK OF INDIA (4 प्रतिशत) शामिल हैं। इसके अलावा निजी क्षेत्र के 9 बैंकों में एलआईसी की हिस्सेदारी 1 प्रतिशत से अधिक है और उसके निवेश का मूल्य बढ़ा है। दिसम्बर 2015 की तुलना में आज की तारीख में सरकारी बैंकों में एलआईसी के निवेश मूल्य में 8 प्रतिशत की कमी आई है। इसके बावजूद एलआईसी सार्वजनिक बैंकों में अपना निवेश बढ़ा रही है।

दिसंबर 2015 के बाद से 9 सार्वजनिक बैंकों के SHARE में 50 प्रतिशत से ज्यादा की कमी आई है और 6 अन्य बैंकों का शेयर भाव 30 से 50 प्रतिशत घटा है। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में एलआईसी ने सबसे ज्यादा निवेश एसबीआई में किया है और दूसरे नंबर पर पंजाब नैशनल बैंक है। हालांकि शेयरधारिता के हिसाब से पंजाब नैशनल बैंक में एलआईसी की हिस्सेदारी सबसे ज्यादा 14.2 प्रतिशत है।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week