Loading...

DIGVIJAY का अंधेरा याद दिला रहे थे CM शिवराज तभी सभा की बत्ती गुल हो गई | ASHIRVAD YATRA SATNA

सतना। सभा स्थल खचाखच भरा हुआ था। सीएम शिवराज सिंह उत्साहित थे। अपनी योजनाओं और संवेदनशीलता का बखान कर रहे थे। फिर दिग्विजय सिंह सरकार की खिल्ली उड़ाना शुरू किया। वो जनता को याद दिला रहे थे कि कांग्रेस के कार्यकाल में कैसे अचानक बिजली गुल हो जाया करती थी, बस वो इतना बोल ही पाए थे कि सभास्थल की बिजल गुल हो गई। पब्लिक मेंं ठहाके गूंजने लगे, शिवराज सिंह के चहरे का रंग उड़ गया। मोबाइल की रोशनी में बाकी का भाषण पूरा किया। 

मामला सतना के उचेहरा का है। उचेहरा में शिवराज अपनी जन आशीर्वाद यात्रा लेकर पहुंचे। वो यहां सभा को संबोधित कर रहे थे। सभा में अच्छी-ख़ासी भीड़ थी। शिवराज सिंह प्रदेश की लोगों को दिग्विजय सिंह सरकार के हालात याद दिला रहे थे। वो खिल्ली उड़ा रहे थे कि कांग्रेस सरकार के दौरान लोग बिजली-पानी और सड़क के लिए परेशान रहे। उन्होंने जैसे ही बिजली किल्लत और अघोषित कटौती के बारे में बोलना शुरू किया कि अचानक सभा स्थल की बिजली गुल हो गयी। मुख्यमंत्री का दांव उल्टा पड़ गया। दिग्गी सरकार की हंसी उड़ाते उड़ाते खुद की सभा में अंधेरा छा गया। माइक बंद हो गया। सभा स्थल में लोग हंस पड़े।

लोगों से मोबाइल फोन की टॉर्च जलाने के लिए कहा गया। सबने अपने-अपने फोन की टॉर्च जलायी। तब जाकर मुख्यमंत्री ने अपनी बात आगे बढ़ायी। मुख्यमंत्री ने मोबाइल फोन की टॉर्च जलाकर अपना भाषण पूरा किया। मजेदार तो यह है कि बत्ती गुल होने के बाद सीएम शिवराज सिंह खुद शिकायत करने लगे। बोले ये कांग्रेस की साजिश है। कांग्रेस ने उनकी सभा में बत्ती गुल करवा दी। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com