BHOPAL: बिजली बिल माफी एवं सरल समाधान के शिविरों की तारीख घोषित | MP NEWS

08 July 2018

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने संबल योजना के तहत असंगठित मजदूरों के बिजली बिल माफ करने एवं अन्य पात्र नागरिकों के बकाया बिजली बिल सरल करने का ऐलान किया है। इसके साथ ही मजदूरों को अब प्रतिमाह मात्र 200 रुपए में अनलिमिटेड बिजली दी जाएगी। बिजली कंपनी ने इसके लिए भोपाल में शिविरों की तारीख घोषित कर दी है। उम्मीदवार निर्धारित तारीख पर शिविर में आकर योजनाओं का लाभ उठा सकते हैं। 

शिविर की पूरी जानकारी यहां देंखें


मध्यप्रदेश मेें अब तक 27 लाख रजिस्ट्रेशन हुए 

भोपाल। मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना में पंजीकृत श्रमिकों के लिये एक जुलाई से लागू सरल बिजली बिल और मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम में अब तक 27 लाख 79 हजार 631 हितग्राही पंजीकृत हो चुके हैं। इनमें से सरल बिजली बिल स्कीम में 10 लाख 69 हजार 711 और बीपीएल उपभोक्ताओं की मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम में 17 लाख 9 हजार 920 पंजीकरण हुए हैं। हितग्राहियों के पंजीयन के लिये पूरे प्रदेश में शिविर आयोजित किये जा रहे हैं।

पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा जबलपुर, सागर और रीवा क्षेत्र में आयोजित शिविरों में सरल बिजली बिल स्कीम में 3 लाख 96 हजार 261 एवं मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम में 8 लाख 9 हजार 521 बिजली उपभोक्ताओं ने पंजीयन करवाया है। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के भोपाल एवं ग्वालियर क्षेत्र में चल रहे शिविरों में सरल बिजली बिल स्कीम में एक लाख 79 हजार 721 एवं मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम में 3 लाख 37 हजार 265 हितग्राही पंजीकरण करवा चुके हैं। पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के इंदौर एवं उज्जैन क्षेत्र के शिविरों में सरल बिजली बिल स्कीम में 4 लाख 93 हजार 729 एवं मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम में 5 लाख 63 हजार 134 उपभोक्ता पंजीकृत हुए हैं।

सरल बिजली बिल स्कीम में शामिल होने के लिए कोई अंतिम तिथि नहीं रखी गई है। वितरण केन्द्रों में हितग्राहियों को लाभ देने की कार्रवाई निरंतर जारी रहेगी। मीटर जहाँ स्थापित होंगे, वहाँ उनमें अंकित खपत के आधार पर बिल की राशि की गणना की जाएगी। ग्रामीण क्षेत्रों के अनमीटर्ड संयोजनों पर विद्युत नियामक आयोग द्वारा निर्धारित दरों से बिल की गणना की जाएगी। उपभोक्ता को केवल 200 रूपए प्रति माह तक ही देने होंगे, शेष राशि की सब्सिडी शासन द्वारा दी जाएगी। पात्रताधारी परिवारों को बिना कनेक्शन प्रभार लिए (निःशुल्क) बिजली कनेक्शन की सुविधा दी जाएगी। हितग्राही को स्वयं उपभोक्ता होने पर ही स्कीम का लाभ मिलेगा। उपभोक्ता परिवार का सदस्य होने और साथ में निवास करने पर भी लाभ की पात्रता रहेगी। इसके लिए परिवार का सदस्य वही माना जाएगा, जो समग्र डाटाबेस में परिवार के रूप में दर्ज होगा। उपभोक्ता के चाहने पर 500 रूपये के स्टाम्प पर नामांतरण की सुविधा रहेगी। एयर कंडीशनर (एसी), हीटर, एक हजार वॉट से अधिक के उपभोक्ता योजना का लाभ नहीं ले सकेंगे। ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में स्कीम के तहत केवल बल्ब, पंखा और टी.वी. चलाने पर ही यह सुविधा मिलेगी। एक हजार वॉट में 4 बल्ब, 2 पंखे, एक टीवी और एक कूलर चल सकेंगे।

हितग्राही को विद्युत वितरण कंपनी के केन्द्र, जोन अथवा इसके लिए लगाए जा रहे कैम्प में निर्धारित फार्म में आवेदन देना होगा। आवेदन में केवल श्रमिक पंजीयन नंबर ही देना होगा। स्कीम में शामिल होने के लिए कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। बिजली का बिल एवं आवेदन का परीक्षण कर पात्र हितग्राहियों का जुलाई का बिल जो अगस्त में आएगा, उसमें अधिकतम 200 रूपये भुगतान करने का उल्लेख होगा। बिल में उपभोक्ता द्वारा दी जाने वाली राशि और शासन की सब्सिडी का भी उल्लेख होगा।

मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम

पंजीकृत श्रमिकों और बीपीएल उपभोक्ताओं को राहत पहुँचाने के लिये मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम में हितग्राहियों को लाभ दिलवाने की कार्रवाई भी वितरण केन्द्रों में लगातार जारी है। जून 2018 की स्थिति में बिजली बिल की बकाया राशि पूरी माफ की जाएगी। इसमें मूल बकाया राशि एवं सरचार्ज भी शामिल रहेगा। उपभोक्ता के पंजीकृत श्रमिक के सगे-संबंधी होने और साथ में रहने पर ही लाभ मिलेगा। इस योजना में भी परिवार का सदस्य उन्हीं को माना जाएगा, जिनका नाम समग्र डाटा बेस में परिवार के सदस्य के रूप में अंकित होगा। न्यायालय में विचाराधीन प्रकरण तथा विद्युत अधिनियम की धारा 126, 135 एवं 138 में दर्ज प्रकरणों की स्थिति में भी योजना का लाभ दिया जाएगा। पिछली सामाधान योजना में लाभ ले चुके उपभोक्ता भी इस स्कीम का लाभ ले सकेंगे।

इस योजना में भी हितग्राही को वितरण केन्द्र, जोन अथवा शिविरों में निर्धारित प्रपत्र में आवेदन देना होगा। शिविर में उपलब्ध फार्म में उपभोक्ता को केवल श्रमिक पंजीयन अथवा बीपीएल कार्ड का नंबर देना होगा। आवेदन के परीक्षण के बाद हितग्राहियों को बिल माफी का प्रमाण-पत्र दिया जाएगा।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts