Loading...

BHOPAL: शिवराज ने माफी नहीं मांगी तो कोर्ट में घसीटूंगा: दिग्विजय सिंह | MP ELECTION NEWS

भोपाल। 'देशद्रोही' मामले में आज दिग्विजय​ सिंह अपने समर्थकों के साथ भोपाल के टीटी नगर थाने में गिरफ्तारी देने पहुंचे। इससे पहले सीएम शिवराज सिंह ने एक बयान में दिग्विजय सिंह के लिए 'देशद्रोही' शब्द का उपयोग किया था। दिग्विजय सिंह ने चुनौती दी थी कि यदि उनके खिलाफ मुख्यमंत्री के पास कोई सबूत हैं तो वो पुलिस को सौंप दें, मैं गिरफ्तारी देने आ रहा हूं। अपने ऐलान के अनुसार दिग्विजय सिंह थाने जा पहुंचे परंतु उनके खिलाफ पुलिस के पास कोई सबूत नहीं थे अत: उन्हे वापस लौटा दिया गया। अब दिग्विजय सिंह ने ऐलान किया है कि वो सीएम शिवराज सिंह को कोर्ट में घसीटेंगे। इसके अलावा अब दिग्विजय सिंह की तरफ से रामेश्वर नीखरा ने देशद्रोही मामले की टी टी नगर थाने में लिखित शिकायत की है। 

पुलिस ने कहा केस ही दर्ज नहीं है

दिग्विजय सिंह पूरे लाव-लश्कर के साथ टी टी नगर थाने पहुंचे। वो यहां गिरफ़्तारी देने आए थे। लेकिन पुलिस ने कहा जब उनके खिलाफ कोई केस ही दर्ज नहीं है तो फिर गिरफ़्तारी कैसे की जाए। थाने रवाना होने से पहले दिग्विजय सिंह ने कहा था कि सीएम शिवराज सिंह माफ़ी मांगें नहीं तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी। 

समर्थकों में हुई धक्का-मुक्की

समर्थकों की इतनी ज़्यादा भीड़ थी कि रवानगी होते ही उनसें धक्का-मुक्की शुरू हो गयी। सबमें दिग्विजय सिंह से मिलने और उनके साथ चलने की होड़ रही। रैली को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने व्यापक इंतज़ाम किए। समन्वय भवन से लेकर टीटी नगर थाने तक रोड पर हर तरफ बेरिकेड्स थे। पुलिस सीसीटीवी के ज़रिेए लगातार नज़र बनाए हुए थी। पुलिस के कुल 1000 जवान तैनात थे। खुद एसपी और उनके साथ  8 टीआई, 5 सीएसपी, और 3 एएसपी मुस्तैद रहे।

पुलिस लाठीचार्ज के लिए तैयार थी

PHQ से सख़्त निर्देश थे कि हंगामा होने पर पुलिस सबसे सख़्ती से निपटे। अगर मौखिक समझाने और चेतावनी देने से कार्यकर्ता नहीं मानें तो लाठीचार्ज कर दिया जाए। वॉटर केनन, आंसू गैस सहित तमाम इंतज़ाम भी पुलिस ने कर रखे थे।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com